• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • एमपी और राजस्थान के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी

एमपी और राजस्थान के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी

एमपी और राजस्थान के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी

एमपी और राजस्थान के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी

मालवा और मेवाड़ के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी है. आयकर विभाग ने अपनी कार्रवाई को पूरी तरह तेल कारोबारियों पर फोकस किया है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश में मालवा और राजस्थान में मेवाड़ अंचल के 6 शहरों में आयकर विभाग की कार्रवाई गुरुवार को दूसरे दिन भी जारी है. आयकर विभाग ने अपनी कार्रवाई को पूरी तरह तेल कारोबारियों पर फोकस किया है. क्योंकि मालवा के राजस्थान से लगे कुछ शहर करोड़ों के बेनामी और फर्जी तेल कारोबार का हब बन चुके हैं. आयकर विभाग की इस कार्रवाई में करीब 250 से ज्यादा अफसर शामिल हैं. यह पूरी कार्रवाई फर्जी बिलिंग और बेनामी बैंक ट्रांजेक्शन से जुड़ी बताई जा रही है.

गौरतलब है कि बीते 13 फरवरी को सुबह 5 बजे विकास संग निशा के स्टिकर लगी दर्जनों गाड़ियां नीमच के बड़े तेल कारोबारी धानुका इंडस्ट्रीज, माहेश्वरी वेयर हाउस, निम्बाहेड़ा राजस्थान की माहेश्वरी रिफाइनरी, मंदसौर की अमृत रिफाइनरी और जावरा की अम्बिका सोलवेक्स पर पहुंची थी. इन सभी के अलग-अलग करीब 40 से ज्यादा ठिकानों पर आयकर विभाग की यह कार्रवाई चल रही है. इस कार्रवाई में करीब 250 से भी ज्यादा अफसर इंदौर के ज्वाइंट डायरेक्टर सत्यपाल मीणा के नेतृत्व शामिल हैं.

जानकारों की मानें तो नीमच, मंदसौर, जावरा और पड़ोसी राज्य राजस्थान का निम्बाहेड़ा दो नंबरी तेल कारोबार का बड़ा हब बन चुका है. इस मामले में आरटीआई कार्यकर्ता अमित शर्मा का कहना है कि ये तेल कारोबारी सोयाबीन की अधिकांश खरीदारी मंडियों से बिना बिल के करते हैं. उसके बाद तेल का उत्पादन कर ये टैंकर राजस्थान भेज देते हैं, जहां फर्जी बिल बनाता है जिसे रास्ते का बिल कहते हैं. यह बिल टैंकर के साथ जब अपने गंतव्य पर पहुंच जाता है, तो उसे फाड़ दिया जाता है.

जानकारों का यह भी कहना है कि ये तमाम तेल कारोबारी रियल एस्टेट के बड़े खिलाड़ी हैं. ऐसी जमीनों पर इनकी नजर रहती है जिसका पंजीयन मूल्य बेहद कम हो और उसमें दो नंबर के रुपए भरपूर लग जाए.

गोवा के पांच सितारा होटल में की थी शादी

नीमच के बड़े तेल कारोबारी कैलाश धानुका ने दो माह पूर्व अपनी बेटी की शादी गोवा के 5 सितारा होटल में की थी, जिसमें 100 कमरे बुक करवाए जाने की खबर है. मिली जानकारी के मुताबिक यहां मेहमानों की 3 दिन तक खातीरदारी की गई थी. इस शादी के बाद कैलाश धानुका और सुर्खियों में आ गए.

मुनीम के नाम से करोड़ों के बेनामी ट्रांजेक्शन

कैलाश धानुका का मुनीम मुकेश जैन भी इस जांच के घेरे में है, क्योंकि उसके बैंक खातों से करोड़ों रुपए के बेनामी लेन-देन की खबरें है, जिस चलते आयकर विभाग ने राजस्थान स्थित गोदाला में मुकेश जैन के निवास पर भी कार्रवाई शुरू कर दी है.

मील मजदूर बनकर रहे आयकर अफसर !

सूत्रों से पता चला है कि इस बेनामी तेल कारोबार की जड़ में पहुंचाने के लिए आयकर अफसर मील मजदूर बनकर इन तेल रिफाइनरियों में काम कर रहे थे. ताकि पूरी जानकारी इकट्ठी की जा सके.

ये भी पढ़ें:- बाराती बनकर पहुंची 100 अधिकारियों की इनकम टैक्स टीम, तड़के मारा एमपी के सबसे बड़े तेल कारोबारी पर छापा

ये भी पढ़ें:- मंदसौर: अमृत रिफाइनरी के ठिकानों पर आयकर विभाग ने बाराती बनकर मारा छापा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज