प्‍याज के बढ़ते दामों ने लोगों के निकाले आंसू, किसानों ने कही ये बात
Neemuch News in Hindi

प्‍याज के बढ़ते दामों ने लोगों के निकाले आंसू, किसानों ने कही ये बात
भोपाल में 120 रुपए बिक रहा है प्‍याज.

मध्‍य प्रदेश में प्‍याज (Onion) की सबसे बड़ी मंडी नीमच (Neemuch) में हैं, जहां इन दिनों थोक भाव 40 से 50 रुपए किलो है. जबकि यही प्‍याज सब्जी मंडी (Vegetable Market) में 60 से 70 रुपए में बिक रही है. इससे आमजन परेशान है तो किसान अच्‍छे भाव से खुश नजर आ रहे हैं.

  • Share this:
नीमच. मध्‍य प्रदेश की सबसे बड़ी प्याज मंडी नीमच ( Onion Mandi Neemuch) में प्याज के भाव में आए उछाल ने बाजार में आग लगा दी है. मंडी में प्‍याज का थोक भाव 40 से 50 रुपए किलो है, तो यह सब्जी मंडी (Vegetable Market) में 60 से 70 रुपए में बिक रही है. ऐसे में आम लोगों की थाली से प्याज गायब हो गया है. साफ है कि सब्जी का जायका भी बिगड़ गया है. लोगों का कहना है कि अब प्याज सब्जी के भाव मिलने लगा है, जिसे खरीदने से पहले काफी सोचना पड़ रहा है. हालांकि किसान प्याज के भावों को लेकर काफी खुश हैं, क्‍योंकि जो प्याज पिछले सीजन में 2 रुपए किलो बिक रहा था, इस बार उसके अच्‍छे दाम मिल रहे हैं.

इस वजह से है नीमच का नाम
नीमच में प्‍याज की खेती खूब होती है. यहां खरीफ और रबी के सीज़न में करीब 3-3 हज़ार हेक्टेयर में प्याज उगाया जाता है, लेकिन इस बार मात्र 1200 हेक्टेयर में ही प्याज रोपा गया गया है. इसके अलावा बारिश में प्याज की फसल को नुकसान भी हुआ. यही वजह है कि प्याज के भाव आसमान छूने लगे हैं. सच कहा जाए तो आमजन जिस प्याज का सलाद खाता था वो थाली से ही गायब हो गया है.

किसान ने कही ये बात
किसान किशनलाल का कहना है कि प्याज का भाव 40 से 50 रु किलो किसानों को मिलना ही चाहिए, तभी कुछ फायदा होना. जबकि सब्जी विक्रेता मुन्नालाल का कहना है कि इस समय प्याज के भाव एक दम से 15 से 20 रु किलो तक बढ़े हैं और रिटेल में हमारे यहां प्याज 60रु किलो बिक रहा है. जबकि ग्राहक कम प्याज खरीद रहे हैं.



यही नहीं, गृहणी कमलादेवी ने कहा कि हमारे यहां तो प्याज करने वाले किसान ऐसे ही दे जाया करते हैं, लेकिन अब तो प्याज के भाव ही इतने बढ़ गए हैं कि वे उसे सीधे मंडी में बेच रहे हैं. कभी सोचा नहीं था कि सब्जी में प्याज डालने के लिए सोचना पड़ेगा.

ये भी पढ़े.

कैंसर ट्रीटमेंट को लेकर भोपाल के 3 बड़े सरकारी अस्‍पतालों की खुली पोल! मरीजों को मिलता है सिर्फ आश्‍वासन

बंदरिया अपने घायल बच्‍चे को लेकर पहुंची अस्‍पताल, स्‍टाफ की आंखें हो गईं नम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज