Home /News /madhya-pradesh /

शिवराज का कमलनाथ निशाना, कहा- किसानों को धोखे में रख गुमराह कर रही सरकार

शिवराज का कमलनाथ निशाना, कहा- किसानों को धोखे में रख गुमराह कर रही सरकार

नीमच-मंदसौर संसदीय क्षेत्र के तूफानी दौरे पर निकले बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को नीमच में मीडिया से बात करते हुए प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधा.

    मध्य प्रदेश में नीमच-मंदसौर संसदीय क्षेत्र के तूफानी दौरे पर निकले बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को नीमच में मीडिया से बात करते हुए प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधा. साथ ही इस दौरान कमलनाथ सरकार पर कई संगीन आरोप भी लगाए. शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने गरीबों का कफन छीन लिया, बीमारों का इलाज छीन लिया और तो और इस सरकार में छात्रों को स्कॉलरशिप तक नहीं मिल रहा है. सिर्फ भ्रष्‍टाचार का मीटर चालू है.

    शिवराज ने कहा कि कमलनाथ सरकार भावांतर का रुपया खा गई. प्रदेश में किसान ही नहीं गरीब और मजदूर भी परेशान हैं. इन्‍होंने कर्जमाफी के नाम पर किसानों से छलावा किया है. शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में कहा था कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर सभी किसानों का 2 लाख तक कर्जा माफ करेंगे. बाद में कांग्रेस अपनी बात से मुकर गई और कह दिया कि वे सिर्फ अल्पकालीन फसली ऋण माफ करेंगे,  लेकिन उसमें भी कांग्रेस ने कई रुकावटें पैदा कर दी.

    शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ने किसानों से जो वादे किए थे, उसे उन्हें निभाना होगा. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने जो सुविधाएं दी थी, उसे कांग्रेस की सरकार बनते ही छीन लिया गया.

    ये भी पढ़ें:- भोपाल पर 1200 CCTV कैमरे और 200 मोबाइल यूनिट की रहेगी नज़र

    ये भी पढ़ें:- मालवा में राहुल ने शुरू किया धुआंधार प्रचार, बोले- हम मोदीजी को प्यार से हराएंगे

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: BJP, Congress, Kamalnath, Madhya Pradesh Lok Sabha Elections 2019, Neemuch news, Shivraj singh chouhan

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर