Home /News /madhya-pradesh /

100 करोड़ की प्रॉपर्टी, तीन साल की बेटी छोड़ संन्‍यास ले रहे दंपति मामले में नया ट्विस्ट

100 करोड़ की प्रॉपर्टी, तीन साल की बेटी छोड़ संन्‍यास ले रहे दंपति मामले में नया ट्विस्ट

इस मामले में समाजिक कार्यकर्ता कपिल शुकला ने एक आवेदन देकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, चाइल्ड केयर, सीएम हेल्पलाइन, जिला कलेक्टर और एसपी से मांग की है कि इस जोड़े की दीक्षा रुकवाई जाए.

इस मामले में समाजिक कार्यकर्ता कपिल शुकला ने एक आवेदन देकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, चाइल्ड केयर, सीएम हेल्पलाइन, जिला कलेक्टर और एसपी से मांग की है कि इस जोड़े की दीक्षा रुकवाई जाए.

इस मामले में समाजिक कार्यकर्ता कपिल शुकला ने एक आवेदन देकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, चाइल्ड केयर, सीएम हेल्पलाइन, जिला कलेक्टर और एसपी से मांग की है कि इस जोड़े की दीक्षा रुकवाई जाए.

    मध्य प्रदेश के नीमच में पौने तीन साल की बेटी और करीब 100 करोड़ की संपत्ति छोड़कर संन्यासी बनने जा रहे दम्पति का मामला तूल पकड़ता जा रहा है.

    जैन समाज के पति पत्नी अनामिका और सुदीप राठौड़ की दीक्षा का मामला तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है क्योंकि दोनों अपनी तीन साल की बेटी को छोड़ कर ले रहे हैं. और लोगों का एतराज इसी पर है कि दीक्षा के बाद मासूम बच्ची का क्या होगा.

    इस मामले में समाजिक कार्यकर्ता कपिल शुकला ने एक आवेदन देकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग, चाइल्ड केयर, सीएम हेल्पलाइन, जिला कलेक्टर और एसपी से मांग की है कि इस जोड़े की दीक्षा रुकवाई जाए.

    100 करोड़ की प्रॉपर्टी और तीन साल की बेटी को छोड़कर संन्‍यास लेगा ये दंपति

    23 सितम्बर को दोनों पति पत्नी का दीक्षा समारोह सूरत में होना है. इस दीक्षा को लेकर लगातार विरोध के स्वर उठ रहे हैं. सामाजिक कार्यकर्ता शुकला ने मांग की है कि हमारा समाज के किसी काम से विरोध नहीं है. हम तो केवल इतना चाहते है की मासूम बच्ची का क्या दोष है. उसको कौन पालेगा.

    इस  विरोध का लोग दबी जुबां से समर्थन कर रहे हैं. वहीं जैन समाज के लोगों का कहना है की इस मामले में निर्णय जैन मुनि रामलाल जी महाराज को निर्णय करना है.

    Tags: Neemuch news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर