नीमच: नशे की तस्करी कर रहे बेरोज़गार युवा, पुलिस के आंकड़ों से हुआ खुलासा
Neemuch News in Hindi

नीमच: नशे की तस्करी कर रहे बेरोज़गार युवा, पुलिस के आंकड़ों से हुआ खुलासा
अफीम की तस्करी कर रहे क्षेत्र के बेरोज़गार युवा

बेरोज़गारी (Unemployment) मालवांचल (malwa) की बड़ी समस्या है. साल भर के आंकड़ों (Crime Data) से पुलिस ने इस बात खुलासा किया है कि नशा तस्करी में साल भर में पकड़े गए 142 में 125 की अधिकतम उम्र 25 साल है.

  • Share this:
नीमच. आज की इस चकाचौंध भरी दुनिया में बेरोजगारी (Unemployment) कहीं न कहीं युवाओं को भटकाने में लगी है. अफीम (opium) उत्पादक मालवांचल (Malwa) की बात की करें तो यहां युवाओं का एक बड़ा तबका तस्करी (smuggling) में लगकर जल्दी पैसे कमाने की चाहत में लगा नजर आता है. इस बात का खुलासा पुलिस के हाल ही में तस्करी मामले में बनाये गए प्रकरणों में बड़ी संख्या में युवाओं के नाम सामने आने से हुआ है.

142 आरोपियों में से 125 युवा
अफीम उत्पादक मालवांचल के नीमच जिले में इस वर्ष तस्करी के मामलों में ये चौंका देने वाला खुलासा हुआ है जिसमे ये बात सामने आई है कि इस वर्ष पुलिस के 77 प्रकरणों में 142 आरोपी हैं और इनमे से 125 आरोपियों की उम्र 20 से 25 साल के बीच है. जो बेरोजगार हैं और लालच में आकर अपनी जरूरतें पूरी करने के चक्कर में तस्करी से जुड़े और अपना जीवन दांव पर लगा दिया.

News - नशे की तस्करी में बेरोज़गार युवा अपना जीवन बर्बाद कर रहे हैं.
नशे की तस्करी में बेरोज़गार युवा अपना जीवन बर्बाद कर रहे हैं.

युवाओं के लिए सनिश्चित करें रोज़गार


आज युवा जिस तरह से शॉर्टकट से रुपये कमाने की चाहत में अपराध की ओर कदम बढ़ा रहे हैं वो हमारे सामाजिक ढांचे के लिए एक बड़े खतरे की चेतावनी है. सामाजिक कार्यकर्ता एडवोकेट चंचल बाहेती का कहना है कि मालवा का युवा बेरोजगारी और तस्करी की दुनिया के रुतबे और रुपये पैसों की लालच में भटककर तस्करी में अपना जीवन बर्बाद कर रहा है. उन्होंने कहा कि सरकार को युवाओं के लिए रोज़गार सुनिश्चित करना चाहिए ताकि युवाओं को बर्बाद होने से रोका जा सके. उन्होंने इसके लिए जागरूकता अभियान चलाने की ज़रूरत भी बताई.

पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया की पिछले 9 महीनों में उनके द्वारा चलाये जा रहे मादक पदार्थों की तस्करी के खिलाफ अभियानों में पकड़े गए आरोपियों में अधिकांश युवा हैं. जो कि चिंता का विषय है. उन्होंने भी माना कि बेरोज़गारी इस समस्या का मूल है.

ये भी पढ़ें -
इंदौर में लगे वीर सावरकर पर पोस्टर, ये कथित दस्तावेज़ भी छापा
कमलेश तिवारी हत्याकांड: भड़काऊ बयान बना हत्या की वजह, 3 लोगों को गिरफ्तार किया: DGP
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading