लाइव टीवी

स्कूल के लिए पिछले 7 दिनों से अनशन पर बैठ ग्रामीणों के आगे झुका प्रशासन

DILIP KUMAR | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 31, 2018, 5:05 PM IST
स्कूल के लिए पिछले 7 दिनों से अनशन पर बैठ ग्रामीणों के आगे झुका प्रशासन
कन्या विद्यालय की जगह भूमाफियाओं से मुक्त कराने को अनशन कर रहे ग्रामीण

पन्ना में एक बार फिर न्यूज़ 18 की खबर का असर देखने को मिला. पन्ना के ककरहटी में स्कूल के लिए पिछले 7 दिनों से अनशन पर बैठ ग्रामीणों को प्रशासन के द्वारा गन्ने का रस पिलवाकर अनशन तुड़वाया गया.

  • Share this:
पन्ना में एक बार फिर न्यूज़ 18 की खबर का असर देखने को मिला. पन्ना के ककरहटी में स्कूल के लिए पिछले 7 दिनों से अनशन पर बैठ ग्रामीणों को प्रशासन के द्वारा गन्ने का रस पिलवाकर अनशन तुड़वाया गया.

गौरतलब है कि माध्यमिक शाला ककरहटी में लगभग 400 छात्राएं अध्ययनरत हैं लेकिन कमरे ना होने की वजह से छात्राओं को केवल दो ही कमरे में बैठना पड़ता है. पता चला कि सरकारी जगह पर जहां स्कूल का निर्माण होना था, वहां पर अतिक्रमणकारियों ने कब्जा कर रखा था. यह अतिक्रमणकारी गुन्नौर विधायक के चहेतों में शुमार बताए जाते हैं.

इस कारण से स्वीकृत नवीन माध्यमिक शाला का यहां निर्माण नहीं हो पा रहा था. इस कारण ग्रामीणों ने स्कूल जमीन को मुक्त कराने के लिए अनशन आरंभ किया. मौके पर एसडीएम और तहसीलदार पहुंचे और तमाम मामले की जानकारी ली. उन्होंने कहा कि जल्द ही अतिक्रमण हटवाकर स्वीकृत नवीन बिल्डिंग का निर्माण किया जाएगा.

इस तरह अन्ना समर्थक ग्रामीणों की मांगे पूरी करने का आश्वासन देकर उनका अनशन खत्म करवाया. इन य़ुवाओं का कहना था कि एक ओर सरकार बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ का आह्वान कर रही है. वहीं उसके मंत्री विधायकों के गुर्गे इस में बाधक बन रहे हैं.

 

 

 
Loading...

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पन्‍ना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 31, 2018, 5:05 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...