लाइव टीवी

MP: पन्ना राजपरिवार की महारानी पर शंकराचार्य ने लगाया गाली-गलौज का आरोप

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 5, 2018, 9:05 PM IST
MP: पन्ना राजपरिवार की महारानी पर शंकराचार्य ने लगाया गाली-गलौज का आरोप
महारानी ने कहा कि मैंने अभद्रता नही की, अगर ऐसा है तो शंकराचार्य कोई साक्ष्य दें

वहीं महारानी ने कहा कि मैने उनके साथ कोई भी अभद्रता नही की अगर ऐसा है तो शंकराचार्य कोई साक्ष्य दें. शंकराचार्य ने पुलिस चौकी पर शिकायत भी की लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं हुई

  • Share this:
मध्य प्रदेश में पन्ना राजपरिवार की महारानी जितेशवरी कुमारी पर बदसलूकी और गाली-गलौज का आरोप लगा है. पन्ना के लक्ष्मीपुर आश्रम स्थित संपत्ति को हड़पने के उद्देश्य से ज्योतिर्मठ बद्रिकाश्रम के शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती ने महारानी पर गाली गलौज कर अभद्रता का आरोप लगाया है.

दरअसल, शंकराचार्य ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आपबीती सुनायी. शंकराचार्य ने पुलिस से भी शिकायत की पर एफआईआर दर्ज नहीं हुई है. वहीं इलाके में शंकराचार्य के अपमान का मामला सामने आते ही लोगों में नाराजगी बताई जा रही है.

महारानी ने कहा- प्रमाण दें
वहीं महारानी जितेशवरी इस सम्पति को अपनी पैतृक संपत्ति बता रही हैं. उन्होंने कहा कि शंकराचार्य जी पीएम मोदी और सीएम शिवराज के खिलाफ साजिश रच रहे हैं, जिसमें मैं शामिल नहीं होना चाहती. उन्होंने कहा कि मैंने अभद्रता नहीं की, अगर ऐसा है तो शंकराचार्य कोई साक्ष्य दें.

ये पढ़ें- तीन महीने में 95 गैंगरेप, 49 की हत्या...ये है मध्यप्रदेश में महिलाओं का हाल !

क्या है मामला
पन्ना राजपरिवार की सबसे वरिष्ठ सदस्य रही चंद्र कुमारी रघुवंशी ने अपने हिस्से की संपत्ति ट्रस्ट बनाकर ज्योतिर्मठ के शंकराचार्य वासुदेवानंद सरस्वती जी को सौंप दी थी. उनकी मृत्यु के बाद आश्रम की देखभाल और संचालन उन्हीं के हाथों में है. लेकिन दो दिन पूर्व पन्ना राजपरिवार की बहू महारानी जितेशवरी कुमारी ने आश्रम में ताला जड़ दिया और वहां मौजूद लोगों से गाली गलौज की.
Loading...

बताया जा रहा है कि जब शंकराचार्य आए तो उनके साथ अभद्र व्यवहार किया और गाली गलौज कर धमकी दी है, जिसकी शिकायत शंकराचार्य ने पुलिस चौकी पर की, लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं हुई. इसके बाद परेशान शंकराचार्य ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घटना की आपबीती सुनाई है, और ऐसा आरोप लगाया.

शंकराचार्य के अनुयायी दुखी
शंकराचार्य की साथ हुए दुर्व्यवहार से उनके अनुयायी दुखी हैं. उनका कहना है कि नंदीग्राम लक्ष्मीपुर स्थित एकल न्यास की दृष्टि महाराज जी हैं, जिसके समस्त वैधानिक दस्तावेज तैयार हैं. इसके बावजूद जितेशवरी कुमारी ने बदसलूकी की जिससे हम आहत हैं. इस मामले में पुलिस का कहना है कि मामले की शिकायत ट्रस्ट की ओर से की गई है. पुलिस जांच कर रही है.
(पन्ना से संजय की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें- MP विधानसभा चुनाव: अपने-अपने 'तुरुप के इक्के' तैयार कर रही BJP और कांग्रेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पन्‍ना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 5, 2018, 8:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...