कम्बोडिया के दल ने पन्ना टाइगर रिजर्व में सीखे बाघों को बसाने के गुर
Panna News in Hindi

कम्बोडिया के दल ने पन्ना टाइगर रिजर्व में सीखे बाघों को बसाने के गुर
कंबोडिया का दल पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघों को बसाने के गुर सीख रहा है.

दुनिया भर में बाघ पुनर्स्थापना योजना को सफलतापूर्वक संचालित करने वाला पन्ना टाइगर रिजर्व विश्व गुरु बन गया है. 2009 में पन्ना के इस टाइगर रिजर्व क्षेत्र में बाघ विलुप्त हो गए थे.

  • Share this:
दुनिया भर में बाघ पुनर्स्थापना योजना को सफलतापूर्वक संचालित करने वाला पन्ना टाइगर रिजर्व विश्व गुरु बन गया है. 2009 में पन्ना के इस टाइगर रिजर्व क्षेत्र में बाघ विलुप्त हो गए थे. लेकिन उसके बाद यहां एक बाघिन को लाकर शुरू की गई बाघ पुनर्स्थापना योजना के महज 7 सालों में बाघों का कुनबा विश्व में सबसे तेजी से बढ़ा है. अब यहां पर करीब 30 से अधिक बाघ अपना आशियाना बनाए हुए हैं. दुनिया भर के लोग पन्ना टाइगर रिजर्व में आकर बाघों के संरक्षण के आधुनिक तरीके सीख रहे हैं. वर्तमान में कंबोडिया का दल पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघों को बसाने के गुर सीख रहा है.

कंबोडिया में 2007 में बाघ विलुप्त हो गए थे. लेकिन यह देश 10 साल बाद भी बाघों की पुनर्स्थापना नहीं कर सका. यही कारण है कि इस देश के विशेषज्ञ भी अब पन्ना टाइगर रिजर्व आकर स्पेशल तरीके सीख रहे हैं. पन्ना का अध्ययन कर कम्बोडिया में भी बाघ पुनर्स्थापना का कार्य प्रस्तावित किया जा रहा है. कम्बोडिया डेलीगेट्स द्वारा 2 दिन तक पार्क का भ्रमण किया गया जहां उन्हें मानीटरिंग की माडर्न तकनीक जैसे ड्रोन एवं टेलीमेट्री से तथा क्षेत्रीय कर्मचारियों के योगदान से अवगत कराया गया.

कम्बोडियन डेलीगेट्स में पर्यावरण मंत्रालय के प्रमुख सचिव, विशेष सचिव, वन एवं वन्यप्राणी विभाग के महानिदेशक, सहायक महानिदेशक, महानिरीक्षक, सहायक महानिरीक्षक, क्षेत्र संचालक, पर्यटन विभाग के प्रमुख सचिव, महानिदेशक, अन्तरराष्ट्रीय कोआॅपरेशन विभाग के निदेशक, टूरिस्ट इन्वेस्ट विभाग के निदेशक, एवं उप निदेशक, प्रोविन्सियल गवर्नमेंट रिप्रजेन्टेटिव, प्रोविन्सियल गर्वनर ने अध्यन किया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading