Assembly Banner 2021

पन्ना में इसलिए नहीं बिक सका बड़ा हीरा, 4 दिनों तक चली थी नीलामी

पन्ना में हीरों की नीलामी समाप्त, नहीं मिला बड़े हीरे का खरीदार

पन्ना में हीरों की नीलामी समाप्त, नहीं मिला बड़े हीरे का खरीदार

पन्ना में 4 दिन चली नीलामी में 190 नग हीरे रखे गए, जिनमें से कई हीरे तो बिक गए लेकिन जो सबसे बड़ा हीरा यानी 18.13 कैरेट का था वह नहीं बिक सका.

  • Share this:
पन्ना देश और दुनिया में हीरे के लिए मशहूर माना जाता है. यहां का हीरा हाथों-हाथ बिकता है. इसी क्रम में पन्ना में 4 दिन चली नीलामी में 190 नग हीरे रखे गए, जिनमें से कई हीरे तो बिक गए लेकिन जो सबसे बड़ा हीरा यानी 18.13 कैरेट का था वह नहीं बिक सका. इसका कारण यह रहा कि जो उसकी सरकारी कीमत थी उस रेट से बहुत कम में हीरा व्यापारियों द्वारा बोली लगाई गई. उसकी अंतिम बोली 3,72,000 प्रति कैरेट के हिसाब से बोली गई जो करीब 67.5 लाख तक पहुंची. हीरा अधिकारी और नीलामी अमले को यह कीमत बहुत कम लगी.

अगली नीलामी तक कोषागार में रहेगा हीरा
लिहाजा, इस कारण प्रदेश के एकमात्र पन्ना जिला हीरा कार्यालय के अधिकारी ने इस हीरे को पेंडिंग रख दिया है. अब अगली नीलामी में इस हीरे को फिर से रखा जाएगा. मामले की जानकारी हीरा अधिकारी एबी पांडेय ने दी है. हालांकि इस हीरे को खरीदने के लिए देश के कोने-कोने से हीरा व्यापारी पन्ना के हीरा कार्यालय में जमा हुए थे, लेकिन इसकी कीमत सिर्फ 67.5 लाख रुपए ही लगी. इसलिए यह हीरा नहीं बिक सका और पन्ना जिला कोषालय में सुरक्षित रख दिया गया है.

 ये भी पढ़ें:- जीतू पटवारी ने ग्रामीण के घर खाया खाना, किया रात्रि विश्राम
 ये भी पढ़ें:- MP: सेना की वर्दी में ऑनलाइन ठगी का कारोबार जोरों पर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज