MP: पन्ना में हर दूसरी गर्भवती महिला खून की कमी से पीड़ित

इस दौरान एक और चौंकाने वाली बात सामने आई है. आंकड़ों के अनुसार पन्ना जिले में सबसे ज्यादा नाबालिग बच्चियां गायब होती हैं.

Sanjay Tiwari | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 8, 2019, 3:07 PM IST
Sanjay Tiwari
Sanjay Tiwari | News18 Madhya Pradesh
Updated: March 8, 2019, 3:07 PM IST
मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में सबसे ज्यादा बच्चे कुपोषित और सबसे अधिक गर्भवती महिलाएं एनीमिया से पीड़ित हैं. ये खुलासा जिले के महिला बाल विकास विभाग के द्वारा दिए गए आंकड़ों से हुआ है.  यहां 1000 पुरुषों पर महिलाओं का लिंगानुपात सिर्फ 915 है और 50 फीसदी के लगभग महिलाएं एनेमिक हैं. और तो और पूरे मध्यप्रदेश में पन्ना जिले में कुपोषण सबसे अधिक है.

आज पूरा देश अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है और उसी के तहत पन्ना जिले में महिला बाल विकास द्वारा अनेक कार्यक्रम कराए जा रहे हैं. बच्चों और महिलाओं के विकास की बात की जा रही है, लेकिन बीते 5 साल की बात करें तो महिलाओं की समाजिक-आर्थिक स्थित लगातार खराब होती जा रहा है. सरकार द्वारा करोड़ों का बजट इस विभाग के द्वारा खर्च किया जा रहा है, लेकिन तस्वीर है कि बदलती नहीं. अधिकारी भी कह रहे हैं कि कुपोषण, महिलाओं का एनेमिक होना सबसे ज्यादा चिंताजनक है.

इस दौरान एक और चौंकाने वाली बात सामने आई है. आंकड़ों के अनुसार पन्ना जिले में सबसे ज्यादा नाबालिग बच्चियां गायब होती हैं. मालमे में महिला बाल विकास अधिकारी का कहना है कि इस तरह के मामले सामने आए हैं. दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बता दे कि उड़ीसा के कंदमाल के बाद पन्ना जिले में सबसे ज्यादा बच्चे कुपोषित है.

ये भी पढ़ें- दूल्हे ने मेंहदी से बनवाई अभिनंदन की तस्वीर, दुल्हन से कहा- देश दिल से ऊपर

ये भी पढ़ें- कांग्रेस विधायक की किसानों को धमकी, कहा- ‘मर्द के बच्चे हो… तो मुझसे बात करो’
First published: March 8, 2019, 2:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...