Video: मां की मौत के बाद अकेले पड़ गए थे नन्हें टाइगर, डर था पिता मार डालेगा, लेकिन जो दिखा उस पर नहीं होगा यकीन

मप्र के पन्ना टाइगर रिजर्व से खुश खबरी आई है. यहां मां की मौत के बाद भी शावक सही-सलामत हैं.

मप्र के पन्ना टाइगर रिजर्व से खुश खबरी आई है. यहां मां की मौत के बाद भी शावक सही-सलामत हैं.

पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघिन की मौत हो गई. उसके बाद 4 शावक अकेले पड़ गए. रिजर्व प्रबंधन को उनके साथ अनहोनी होने का डर था. लेकिन, जब एक वीडियो सामने आया तो सभी की सांस में सांस आई.

  • Last Updated: May 24, 2021, 1:13 PM IST
  • Share this:

पन्ना. आमतौर पर माना जाता है कि बाघ अपने बच्चों के लिए न केवल खतरा होता है, बल्कि कई बार वह शावकों को मार भी डालता है. लेकिन पन्ना टाइगर रिजर्व में एक हैरान करने वाला वाकया सामने आया है. यहां बाघिन की मौत के बाद बाघ न केवल अपने शावकों की देखभाल कर रहा है बल्कि उनकी खुराक तक का इंतजाम कर रहा है. इसका वीडियो सामने आने के बाद पन्ना टाइगर रिजर्व में खुशी का माहौल है.

गौरतलब है कि पन्ना टाइगर रिजर्व में पिछली 15 मई को बाघिन P 213 (32) की मौत हो गई थी. इसके बाद उसके 4 शावक भी गायब हो गए. इस बात ने पन्ना टाइगर रिजर्व में खलबली मचा दी थी, क्योंकि सभी को अनहोनी डर सता रहा था. रिजर्व प्रबंधन लगातार इन बच्चों की तलाश में लगा रहा. लेकिन, अब उन बच्चों का वीडियो सामने आया तो सभी ने राहत की सांस ली है.

Youtube Video

अठखेलियां करते दिखे बच्चे
वीडियो में, बच्चों का पिता बाघ बच्चो का भरण-पोषण करता हुआ दिखाई दे रहा है. नर बाघ के आसपास चारों शावक चट्टानों पर अठखेलियां कर रहे हैं. ये चारों शावक 7 महीने के हैं. पन्ना टाइगर रिजर्व के क्षेत्र संचालक उत्तम कुमार ने बताया कि बाघ P-243 इन शावकों का पिता है. रिजर्व प्रबन्धन ने फिलहाल नर बाघ के मूवमेंट और शावकों के लिए उसके प्रयासों का पता लगाने के लिए सेटेलाइट कॉलर लगा दिया है. इससे उसकी हर जानकारी मिलती रहेगी. क्षेत्र संचालक का कहना है कि आमतौर पर ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है कि नर बाघ अपने बच्चों की जिम्मेदारी उठाता हो, यह बहुत ही खुशी की बात है.

सतपुड़ा टाइगर रिजर्व में आई खुशियां

सतपुड़ा टाइगर रिजर्व (Satpura Tiger Reserve) से अच्छी खबर है. यहां एक बाघिन ने एक साथ 4 शावकों को जन्म दिया है, जिससे टाइगर रिजर्व में खुशी का माहौल है. चारों बच्चे स्वस्थ हैं. इस दौरान वन मंत्री कुंवर विजय शाह ने भी STR का दौरा किया और तस्वीरें लीं. गौरतलब है कि STR के गांवों में विस्थापन और सुरक्षा बढ़ने के बाद बाघों की संख्या बढ़ रही है. दरअसल, हाल ही में सतपुड़ा टाइगर रिजर्व को यूनेस्को ने विश्व धरोहर की संभावित सूची में शामिल किया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज