Assembly Banner 2021

क्षिप्रा नदी में हुए धमाके से उछला पानी, धुआं और आग दिखने से लोग डरे, वैज्ञानिकों ने शुरू की जांच

उज्जैन में क्षिप्रा नदी में एकदम से धमाका होने के साथ ही आग दिखाई देने से लोगों में दहशत का माहौल है.

उज्जैन में क्षिप्रा नदी में एकदम से धमाका होने के साथ ही आग दिखाई देने से लोगों में दहशत का माहौल है.

उज्जैन (Ujjain) स्थित शिप्रा नदी में लोगों ने अजीबोगरीब नजारा देखास जिसका लोगों ने वीडियो (Video) बना लिया. नदी (River) के पानी में एक के बाद एक कई धमाके हुए और पानी से आग भी निकलती दिखाई दी. उसके बाद उज्जैन कलेक्टर (Ujjain Collector) ने जांच के आदेश दिए हैं.

  • Share this:
उज्जैन. मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध महाकाल मंदिर से करीब पांच किलोमीटर दूर त्रिवेणी क्षेत्र में क्षिप्रा नदी में शनिवार को एक के बाद एक कई धमाके हुए. इन धमाकों में धुआं भी निकालऔर लोगों को आग दिखाई दी, जिसके बाद से इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है. नदी से चमकदार रोशनी एवं पानी को उछलते कई लोगो ने देखा है. इसके बाद से वैज्ञानिक मामले की जांच में जुट गये गए हैं.

नदी में जो हचलच हुई उसे लोगों ने देखा और उसकी वीडियो भी बना लिया, जो इन दिनो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. हालांकि, इस घटना में कोई भी व्यक्ति हताहत नहीं हुआ है. उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह ने रविवार को बताया कि कुछ लोगों ने दावा किया है कि उन्होंने यह पूरी घटना देखी है और प्रत्यक्षदर्शियों ने इसका एक वीडियो भी बनाया है. वीडियो में दिख रहा है कि नदी में कुछ धमाके होने के बाद रोशनी होती है और पानी उछलता है. इसके अलावा, वहां पर धुआं भी नजर आ रही है.

इंदौर में एक तरफ कोरोना का कहर, दूसरी तरफ BJP ने ही उड़ाई गाइडलाइन की धज्जियां



सिंह ने बताया कि रविवार को हमें इसका पता चलते ही हमने घटनास्थल का तुरंत मुआयना किया. उन्होंने कहा कि यह धमाके जमीन में नहीं, पानी में हुई है इसलिए यह और भी चिंताजनक हैं. सिंह ने बताया कि उज्जैन के भूवैज्ञानिकों को भी इस मामले का कारण पता करने को कहा गया है और वे जांच में जुटे हुए हैं. उन्होंने कहा कि सोमवार को इंदौर के भूवैज्ञानिकों का दल भी यहां पहुंच जाएगा और जांच करेगा.
सिंह ने बताया कि इसके अलावा, हमने भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण को भी इस घटना के बारे में ई-मेल कर सूचित कर दिया है. उन्होंने कहा कि ऐहतिहयाती तौर पर फिलहाल त्रिवेणी क्षेत्र के नदी घाटों पर दर्शनार्थियों का स्नान दिया गया है और पुलिस बल को तैनात कर दिया है, ताकि किसी अनहोनी को टाला जा सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज