लाइव टीवी

मध्य प्रदेश में पकड़ी गई 9 करोड़ से ज्यादा की बिजली चोरी, वसूली के लिए नोटिस जारी

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 19, 2020, 7:55 PM IST
मध्य प्रदेश में पकड़ी गई 9 करोड़ से ज्यादा की बिजली चोरी, वसूली के लिए नोटिस जारी
सस्ती मिलने के बाद भी मध्य प्रदेश में धड़ल्ले से हो रही बिजली की चोरी

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के पिछले दिनों चलाए गए चेकिंग अभियान (Checking Campaign) में 9 करोड़ से ज्यादा की बिजली चोरी पकड़ी गई है. ये हाल तब है जब एमपी में 100 रुपये में 100 यूनिट बिजली मिल रही है.

  • Share this:
भोपाल. मध्य प्रदेश में लोगों को 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली (Electricity) भले मिल रही हो लेकिन बिजली चोरी करने वालों के इरादे कमजोर नहीं पड़े हैं. मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की ओर से चलाए गए अभियान में इस बिजली चोरी का खुलासा हुआ है. अब विभाग बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ नोटिस देकर बिल की वसूली करेगा. दरअसल मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने भोपाल, नर्मदापुरम और ग्वालियर-चंबल संभाग में बीते हफ्ते चेकिंग अभियान चलाया था. चेकिंग 7331 परिसरों में की गई. इस दौरान बिजली चोरी के 2530 मामले पकड़े गए. बिजली चोरी (Power theft) करने वालों को 9 करोड़ से ज्यादा के बिजली बिल जारी कर वसूली का नोटिस (Notice) दिया गया है.

किस क्षेत्र में कितनी बिजली चोरी?
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी की ओर से भोपाल-नर्मदापुरम और ग्वालियर-चंबल संभाग में चेकिंग अभियान चलाया गया था. इस चेकिंग अभियान के दौरान भोपाल क्षेत्र में 811 परिसरों में चेकिंग की गई. चेकिंग में 184 लाख से ज्यादा की बिजली चोरी के मामले पकड़े गए. वहीं ग्वालियर चंबल संभाग में 1719 परिसरों में 793 लाख से ज्यादा की बिजली चोरी पकड़ी गई.

वसूली के लिए नोटिस जारी

बिजली विभाग ने अब बिजली चोरी करने वालों को नोटिस जारी कर वसूली अभियान शुरु कर दिया है. साथ ही बिजली चोरी करने वालों को चेतावनी दी गई है. आपको बता दें कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने चेकिंग के लिए विशेष टीमों का गठन किया है. भोपाल के अधिकारी ग्वालियर में और ग्वालियर के अधिकारी भोपाल में चेकिंग अभियान चला रहे हैं.

सरकार दे रही 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली
मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार इंदिरा गृह ज्योति योजना के तहत लोगों को 100 रुपए में 100 यूनिट तक बिजली दे रही है. 150 यूनिट तक खपत वाले उपभोक्ताओं को भी सब्सिडी वाली बिजली दी जा रही है, जबकि 150 यूनिट से ज्यादा बिजली खपत पर टैरिफ सामान्य दरों की तरह है. बिजली बिलों में इस छूट के बावजूद बिजली चोरी के केस लगातार सामने आ रहे हैं.ये भी पढ़ें -
CRIME CAPITAL बन रहा भोपाल, रोज हो रहा एक महिला का अपहरण, ये रहे आंकड़े
क्या इस 'जंग' में शिवराज सिंह चौहान को पछाड़ पाएंगे CM कमलनाथ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 7:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर