Assembly Banner 2021

Raisen : अवैध खनन रोकने गए वन विभाग के अमले पर माफिया ने किया हमला, जान बचा कर भागी टीम

माफिया के हमले में एक वन रक्षक घायल हो गया है.

माफिया के हमले में एक वन रक्षक घायल हो गया है.

Raisen-रायसेन में बड़े स्तर पर हो रहा अवैध उत्खनन (Illegal mining) रोकने के लिए प्रशासन के अब तक के प्रयास नाकाफी साबित हुए हैं.यहां रेत, पत्थर और मुरम का अवैध उत्खनन हर तहसील क्षेत्र में हो रहा है.रा

  • Share this:
देवराज दुबे

रायसेन.रायसेन के बहेड़ गांव में अवैध उत्खनन (Illegal mining) पर कार्रवाई करने गए वन अमले पर खनन माफिया के लोगों ने हमला कर दिया. लगभग 10 लोग खदान पर पहुंचे और वन अमले पर डंडे और पत्थर बरसाना शुरू कर दिया. अमले ने जो ट्रॉली और पत्थर ज़ब्त किए थे बदमाश वो सब छुड़ा ले गए. वन विभाग की टीम किसी तरह अपनी जान बचाकर वापस लौटी ओर पुलिस में मामला दर्ज कराया.खनन माफिया के हमले में एक वनरक्षक के हाथ में चोट लगी है.

रायसेन जिले में बड़े पैमाने पर हो रहे अवैध उत्खनन में अब माफिया हमलावर भी हो गया है. लंबे समय से चल रहा अवैध उत्खनन का खेल अब संबंधित विभाग के बस से बाहर होने लगा है.डिप्टी रेंजर जीवन सिंह पवार के साथ छह वनरक्षक बड़ोदा सांचेत में गश्त पर थे.उसी दौरान उन्हें एक ट्रैक्टर भागता हुआ दिखाई दिया.उसका पीछा करने पर टीम एक अवैध खदान पर पहुंच गयी. इस खदान में बहादुर ठाकुर अवैध उत्खनन करा रहा था. टीम ने खदान से एक ट्रॉली जब्त की, जिसमें पत्थर भरे हुए थे.लेकिन उसी दौरान इसकी बहादुर ठाकुर वहां पहुंच गया और कार्रवाई नहीं करने के लिए दबाब बनाया.



वन रक्षक घायल
टीम ज़ब्त की गयी ट्रॉली लेकर रायसेन रवाना होने ही वाली थी कि तभी लगभग 10 लोग खदान पर पहुंचे और वन अमले पर डंडे और पत्थर बरसाना शुरू कर दिया.अमले को मौके से भागने को मजबूर कर दिया. हमले में वन रक्षक राहुल मेहरा के हाथ में चोट लगी.

आरोपियों के नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई
रेंजर आर के चौधरी ने आरोपियों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करायी है. इनमें बहादुर सिंह के साथ उसका बेटा विकास ठाकुर, शकील, यूनुस, आबिर, मुस्लिम के नाम शामिल हैं.डीएफओ अजय कुमार पांडे ने बताया कि बहेड़ में कार्रवाई के दौरान वन अमले पर पत्थर और डंडों से हमला हुआ है. एक वनरक्षक इसमें घायल हुआ है.इम मामले में पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है.अवैध उत्खनन करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

पूरे ज़िले में अवैध उत्खनन
रायसेन में बड़े स्तर पर हो रहा अवैध उत्खनन रोकने के लिए प्रशासन के अब तक के प्रयास नाकाफी साबित हुए हैं.यहां रेत, पत्थर और मुरम का अवैध उत्खनन हर तहसील क्षेत्र में हो रहा है.राजस्व और वन भूमि पर हो रहा ये अवैध उत्खनन रोकने में जिम्मेदार नाकाम रहे हैं. रेत का अवैध परिवहन रोकने जिले के प्रमुख मार्गों पर चौकियां बनाई गई हैं, बाबजूद इसके रेत का अवैध परिवहन जारी है. रेत ठेकेदार पूरी दबंगई से नर्मदा से रेत का उत्खनन कर रहा है.इसी तरह वन भूमि से पत्थर, मुरम का उत्खनन हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज