अपना शहर चुनें

States

'भारत माता की जय' पर कॉन्वेंट स्कूल ने 20 छात्रों को किया बाहर, विरोध में शहर बंद

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के नामली कस्बे में एक कॉन्वेंट स्कूल में कथित तौर परभारत माता की जय बोलने पर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. हिन्दू संगठनों ने विरोध में आज नामली बंद का आह्वान किया है.
मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के नामली कस्बे में एक कॉन्वेंट स्कूल में कथित तौर परभारत माता की जय बोलने पर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. हिन्दू संगठनों ने विरोध में आज नामली बंद का आह्वान किया है.

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के नामली कस्बे में एक कॉन्वेंट स्कूल में कथित तौर पर'भारत माता की जय' बोलने पर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. हिन्दू संगठनों ने विरोध में आज नामली बंद का आह्वान किया है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के नामली कस्बे में एक कॉन्वेंट स्कूल में कथित तौर पर'भारत माता की जय' बोलने पर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. हिन्दू संगठनों ने विरोध में आज नामली बंद का आह्वान किया है.

हिन्दू संगठनों का आरोप है कि गुरुवार को स्कूल में ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाने पर इस कॉन्वेंट स्कूल के प्रशासन ने 20 विद्यार्थियों को स्कूल से निष्कासित कर दिया है. बंद को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है.

मध्यप्र देश कैथोलिक चर्च के जनसंपर्क अधिकारी फादर मारिया स्टीफन ने कहा, ‘‘11 जनवरी की सुबह स्कूल में हमेशा की तरह प्रार्थना हुई. इसमें ‘राष्ट्र गान’ गाने के कुछ ही देर बाद 9वीं कक्षा के कुछ विद्यार्थियों ने ‘वंदे मातरम्’ के नारे लगाने शुरू कर दिए और नाचने लगे. इस तरह उन्होंने ‘वंदे मातरम्’ का उपहास किया.’’



स्टीफन ने कहा, ‘‘वंदे मातरम् का अनादर देख वहां उपस्थित सिस्टर (शिक्षिका) परेशान हो गईं और ऐसा कर रहे बच्चों को अनुशासन में लाने के लिए उन्होंने कहा कि यदि उन्होंने ऐसा करना बंद नहीं किया, तो उन पर कार्रवाई की जाएगी.’’
उन्होंने जोर देकर कहा कि इन विद्यार्थियों को न तो स्कूल से निष्कासित किया गया है और न ही परीक्षा में बैठने से मना किया गया है, जैसा कि कुछ न्यूज पोर्टल पर दावा किया जा रहा है.

स्टीफन ने कहा, ‘‘स्कूल में जो कुछ हुआ, वह सब पूर्व नियोजित था.’’

रतलाम के पुलिस अधीक्षक अमित सिंह ने कहा, ‘‘प्रारंभिक जांच में यह समझ में नहीं आया कि इन बच्चों के साथ कोई ज्यादती हुई है. फिर भी उपमंडल मजिस्ट्रेट एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस इसकी विस्तृत जांच कर रहे हैं.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज