होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Chai ho Jaaye! ठंड में बढ़ा शौक, एक दिन में कितनी चाय पी जाते हैं रतलामी? हैरान कर देगा आंकड़ा

Chai ho Jaaye! ठंड में बढ़ा शौक, एक दिन में कितनी चाय पी जाते हैं रतलामी? हैरान कर देगा आंकड़ा

Winter in Ratlam : रतलाम में महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान आदि राज्यों से आकर लोग चाय बेच रहे हैं. सवा तीन लाख के आसपास ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – जयदीप गुर्जर

रतलाम. भारत में सबसे पसंदीदा पेय पदार्थों की रेस में चाय का कोई सानी नहीं है. चाय की चुस्की के दीवाने हर शहर में मिलेंगे. बात अगर मध्यप्रदेश के रतलाम शहर की करें तो यहां चाय की दीवानगी हर गली मोहल्ले में है. मालवा की मेहमाननवाज़ी ही चाय से शुरू होती है. रतलाम को तो यह स्वाद के पक्के लोगों का शहर कहा जाता है. यहां चाय पीने के आंकड़े आपको भी दिलचस्प लग सकते हैं क्योंकि खुद रतलामवासी ही इन आंकड़ों से चौंक जाते हैं.

रतलाम में चाय का व्यवसाय पिछले तीन चार सालों में बहुत बढ़ा है. मौजूदा दौर में रतलाम शहर में करीब 60 ऐसी चाय की दुकानें हैं, जो किसी न किसी तरह मशहूर हैं. शहर में हर दिन करीब 2 लाख रुपये तक की चाय बेची और पी जा रही है. एक कट चाय में 50 मिली. चाय आती है, जिसकी कीमत 7 रुपये है. आपको जानकर हैरानी होगी कि रतलाम में रोजाना 1,000 लीटर दूध की चाय बनाकर बेची जा रही है. और यह आंकड़ा शहर की कुछ फेमस चाय दुकानों का ही है.

चाय का सोशियोलॉजी और सोशल मीडिया

गली मोहल्लों में अन्य 200 छोटी दुकानें और हैं, जो चाय बेचकर मुनाफा कमा रही हैं. इनके अलावा, घरों में जो चाय बनती है उसका हिसाब लगाना मुश्किल है. चाय की शॉप चलाने वाले प्रशांत व्यास बताते हैं कि गर्मी में चाय की बिक्री में 80 प्रतिशत तक की कमी आ जाती है. ठंड बढ़ते ही ग्राहकी भी बढ़ जाती है. सर्दियों व बारिश में उनकी दुकान पर रोजाना करीब 100 से 120 लीटर दूध की चाय बनती है. वहीं गर्मी के मौसम यह आंकड़ा 80 लीटर का रहता है.

आज के दौर में खासकर युवा सोशल मीडिया से ज्यादा प्रभावित हैं. चाय के व्यापार का बढ़ना भी एक यही कारण है. चाय युवाओं के बीच स्टेटस और गपशप का ज़रिया बन गई है. सोशल मीडिया पर चाय को लेकर तरह तरह की शायरियां मौजूद हैं. वहीं चाय पर रील्स भी जमकर बनाई जा रही हैं.

Tags: Ratlam news, Tea

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें