होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /रतलाम में दिव्यांग बच्चों ने जलेबी रेस में लगाई दौड़, ड्राॅइंग व रंगोली भी बनाई

रतलाम में दिव्यांग बच्चों ने जलेबी रेस में लगाई दौड़, ड्राॅइंग व रंगोली भी बनाई

विश्व दिव्यांग दिवस 3 दिसंबर को मनाया जाएगा. जिसके चलते जनपद शिक्षा केंद्र द्वारा ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन ...अधिक पढ़ें

    जयदीप गुर्जर/रतलाम. शहर में दिव्यांग बच्चों की खेल प्रतियोगिता हुई. खेल प्रतियोगिता में शरीर से विकलांग बच्चों ने हिस्सा लिया. विश्व दिव्यांग दिवस 3 दिसंबर को मनाया जाएगा. जिसके चलते जनपद शिक्षा केंद्र द्वारा ब्लॉक स्तरीय खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया. इस प्रतियोगिता में 35 बच्चों ने भाग लिया. खेल प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र के साथ पुरुस्कार प्रदान किए गए.

    सहभागिता करने वाले सभी प्रतिभागियों को प्रोत्साहन स्वरूप प्रमाण पत्र प्रदान किए गए. बच्चों के बीच गायन, चम्मच रेस, जलेबी रेस, ड्राॅइंग व रंगोली जैसी प्रतिस्पर्धा करवाई गई. गायन प्रतियोगिता में प्रथम भव्य राज, द्वितीय रोहिणी चौहान तृतीय आशी श्रीवास्तव ने प्राप्त किया. रंगोली में पहले स्थान पर कृतिका, दूसरे पर अन्नपूर्णा एवं तीसरे स्थान पर किरण रही. खेल प्रतियोगिता के शुभारंभ के अवसर पर मुख्य अतिथि जिला परियोजना समन्वयक मोहनलाल सांसरी, विशेष अतिथि एमएल डामर विकास खण्ड शिक्षा अधिकारी, सहायक परियोजना अधिकारी सीएल सालित्रा, जिला विज्ञान अधिकारी जितेंद्र जोशी रहे.

    खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन
    बीआरसी विवेक नागर ने बताया कि पूरे जिले में विकासखंड स्तर पर खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया. विकासखंड स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करने वाले दिव्यांग बच्चे विश्व दिव्यांग दिवस पर जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे. जिला स्तर पर प्रतियोगिता होने के बाद इनका चयन संभाग के लिए होगा. प्रतियोगिता में ऐसे बच्चे शामिल है जो देख या सुन नहीं सकते. जिनका मानसिक विकास अधूरा रह गया है. किसी के शरीर का कोई अंग ना हो या वो अविकसित हो. विश्व या अंतराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस समाज एवं विकास के प्रत्येक स्तर पर दिव्यांग लोगों के अधिकारों और कल्याण को बढ़ावा देने पर ज़ोर देता है. इसका उद्देश्य राजनीतिक, सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक जीवन के सभी पहलुओं में दिव्यांग व्यक्तियों की स्थितियों के बारे में जागरुकता बढ़ाना भी है.

    Tags: Madhya pradesh news, Ratlam news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें