होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Ratlam: नन्हें स्वयंसेवकों ने पथ संचलन करते हुए की कदमताल, नगर में हुआ भव्य स्वागत

Ratlam: नन्हें स्वयंसेवकों ने पथ संचलन करते हुए की कदमताल, नगर में हुआ भव्य स्वागत

कदमताल करते नन्हे स्वयंसेवक

कदमताल करते नन्हे स्वयंसेवक

संघ की गणवेश पहन अनुशासन का पालन करते हुए नौनिहालों ने अपने अपने क्षेत्र में सड़क पर कदमताल की. नन्हें कदमों को कदमताल क ...अधिक पढ़ें

    जयदीप गुर्जर

    रतलाम. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस दशहरा यानी विजयादशमी पर अपना स्थापना दिवस मनाता है. इस दिन देश भर में आरएसएस के कार्यकर्ता तय यूनिफॉर्म कोड में कदमताल करते हुए संचलन के रूप में निकलते हैं. आरएसएस का बैंड इसमें मुख्य आकर्षण का केंद्र रहता है. आरएसएस के महेंद्र सिंह सोलंकी ने बताया कि विजयादशमी की तैयारी मध्य प्रदेश के रतलाम में भी की जा रही है. तैयारियों के बीच रविवार को नन्हे-मुन्हे स्वयंसेवकों का पथ संचलन निकला.

    संघ की गणवेश पहन अनुशासन का पालन करते हुए नौनिहालों ने अपने अपने क्षेत्र में सड़क पर कदमताल की. नन्हें कदमों को कदमताल करता देख राह चलता हर कोई रुक गया. लोगों ने मार्ग में फूलों से नन्हें स्वयंसेवकों का स्वागत किया. बाल पथ संचलन में उनके पालकों के साथ-साथ नगर के आमजन भी देखने के लिए मौजूद रहे. संचलन के पहले देशभक्ति, राष्ट्र प्रेम से परिपूर्ण बौद्धिक हुआ. प्रार्थना के पश्चात संचलन आरंभ हुआ.

    इस बार अलग-अलग 41 जगहों से निकलने की तैयारी

    रतलाम शहर में आरएसएस ने चार भाग बनाये हैं जिनमें 41 बस्तियां हैं. इस बार आरएसएस 41 बस्तियों के पथ संचलन निकालने की तैयारी कर रहा है. 41 स्थान से यह संचलन एक समय पर निकलेगा जिसमें पांच से 10 हजार स्वयंसेवक शामिल होंगे.

    बता दें कि, इसके पूर्व पूरे शहर का केवल एक मुख्य आयोजन होता आ रहा है, लेकिन इस बार नया प्रयोग किया जा रहा है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ देश भर में फैली अपनी शाखाओं के माध्यम से सामाजिक सेवा के अनेक कार्य करता है. आरएसएस की पहचान दलित उत्थान से लेकर आदिवासियों में जनजागृति का संचार करने वाले संगठन के रूप में होती है. यह देश में विभिन्न जातियों में फैले समाज को एकजुट करने का भी कार्य करता है.

    Tags: Dussehra Festival, Mp news, Ratlam news, RSS path sanchalan

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें