मानसून ने ऐसी मारी एंट्री कि पूरे शहर में बज उठीं ख़तरे की घंटी

रतलाम में गुरुवार सुबह से ज़ोरदार बारिश हुई. मानसून की ये पहली बारिश थी. लेकिन पहली ही झड़ी में पूरे शहर में जगह-जगह पानी भर गया. दिनभर लोग परेशान होते रहे.
रतलाम में गुरुवार सुबह से ज़ोरदार बारिश हुई. मानसून की ये पहली बारिश थी. लेकिन पहली ही झड़ी में पूरे शहर में जगह-जगह पानी भर गया. दिनभर लोग परेशान होते रहे.

रतलाम में गुरुवार सुबह से ज़ोरदार बारिश हुई. मानसून की ये पहली बारिश थी. लेकिन पहली ही झड़ी में पूरे शहर में जगह-जगह पानी भर गया. दिनभर लोग परेशान होते रहे.

  • Share this:
प्रदेश में मानसून पूरे ज़ोर-शोर से दस्तक दे रहा है. रतलाम में तो इसकी एंट्री ऐसी हुई की सड़कों पर तालाब भर गया और लोग परेशान हो गए.

पूरे शहर में गुरुवार सुबह से मूसलाधार बारिश शुरू हो गयी. हर तरफ सड़कों और गलियों में पानी भर गया. दो बत्ती, न्यू रोड, अजंता टॉकिज रोड, कोर्ट रोड और जावरा फाटक ब्रिज, सहित कई इलाकों की सड़कें पानी में डूब गयीं.पैदल चलना तो मुश्किल हो ही गया, बाइक और कार चलना भी दूभर हो गया. सबसे ज़्यादा परेशान हुए स्कूली बच्चे, जिनकी बस औऱ रिक्शे पानी में फंसे रहे. उन्हें सड़क पर, भरे पानी में से निकलना पड़ा.

न्यू रोड पर पानी का बहाव इतना तेज़ था कि कई बाइक सवार यहां गिरते हुए नज़र आए. बरसों से न्यू रोड पर ये दिक्कत आम है. छत्री पुल का डायवर्सन रोड भी पानी की वजह से बंद है. जावरा फाटक अंडर ब्रिज में पानी भरने से वहां गाड़ियों की आवाजाही रोकना पड़ी. कई इलाकों में लोग कई किमी लंबा चक्कर काटकर अपनी मंज़िल तक पहुंचे.



शहर में कई जगह सीवेज की लाइन डाली जा रही है. सड़कें जगह-जगह से खुदी पड़ी हैं. बारिश का पानी इन गढ्ढों में भर गया है, इसलिए यहां से निकलना ख़तरनाक है.
ये भी पढ़ें - मध्य प्रदेश में छाई बदली, जानिए कैसा रहेगा आपके शहर का मौसम

विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस-बीएसपी में हो सकता है मेल, बातचीत जारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज