अपना शहर चुनें

States

रतलाम: शौचालय की खिड़की तोड़ आश्रय गृह से पांच बालिकाएं फरार

जावरा स्थित बाल गृह
जावरा स्थित बाल गृह

गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे यहां रहने वाली पांच किशोरियां एक साथ निकल कर कहीं चली गई. जानकारी के अनुसार भागने वाली तीन बालिकाओं की उम्र 17-17 साल है, जबकि एक की उम्र 15 और एक 10 साल की है.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के रतलाम के जावरा स्थिथ बालिका आश्रय गृह से गुरुवार को पांच नाबालिग लड़कियां भाग निकली. ये बालिकाएं आश्रय स्थल की पहली मंजिल पर बने हुए शौचालय का वेंटिलेटर लोड़कर भागने में सफल हो गई. सूचना के बाद बालिकाओं की तलाश में बालिका गृह के संचालकों से लेकर पूरी समिति सदस्य अपने-अपने स्तर पर प्रयास कर रहे थे, लेकिन सफलता नहीं मिलने पर पुलिस को इस मामले की जानकारी दी.

दरअसल, जावरा में कुंदन-कुटीर नाम से आश्रय घर चलाया जा रहा है. डॉ. रचना भारती सहित जिले के कई प्रतिष्ठित लोग समिति की सदस्य हैं. आश्रय घर में अनाथ, निराश्रित नाबालिग बच्चियों को रखा जाता है. गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे यहां रहने वाली पांच किशोरियां एक साथ निकल कर कहीं चली गई. जानकारी के अनुसार भागने वाली तीन बालिकाओं की उम्र 17-17 साल है, जबकि एक की उम्र 15 और एक 10 साल की है.

सभी बालिकाएं आश्रय स्थल की पहली मंजिल पर बने शौचालय के खिड़की को तोड़कर छत पर कूदी और वहां से पड़ोस की छत पर कूदकर भाग निकली. करीब एक घंटे तक आश्रय गृह के लोग उन्हें आसपास और पूरे जावना इलाके में तलाशते रहें, लेकिन लड़कियों का कोई पता नहीं चला. इसके बाद आश्रय गृह के सदस्यों ने पुलिस में आवेदन दिया है. घटना की सूचना पर एसडीएम जावरा और स्थानीय पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली और संचालिका से पूछताछ की. इस मामले में प्रशासन ने जिले के सभी क्षेत्रों में नाकाबंदी कर सर्चिंग तेज कर दी  है. औद्योगिक थाना पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.



यह भी पढ़ें-  दुर्ग: बाल संप्रेक्षण गृह से 13 अपचारी बालक फरार, तीन को पकड़ा
यह भी पढ़ें-  आश्रय गृह की बालिकाओं के साथ हुए रेप के मामले की हो CBI जांच: पप्पू यादव

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज