होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /रतलाम के फूलों की खुशबू से महक रहे देश के कई शहर, रोजाना कई टन फूल भेजे जा रहे बाहर

रतलाम के फूलों की खुशबू से महक रहे देश के कई शहर, रोजाना कई टन फूल भेजे जा रहे बाहर

रतलाम जिले में फूलों की पैदावार को पूजा-अर्चना और सजावट के उपयोग में लाने के लिए देश के अन्य हिस्सों में भेजा जाता है

रतलाम जिले में फूलों की पैदावार को पूजा-अर्चना और सजावट के उपयोग में लाने के लिए देश के अन्य हिस्सों में भेजा जाता है

मध्य प्रदेश के अलावा गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र के कई जिलों के गरबा पंडालों को रतलाम से भेजे फूल महका रहे हैं. हालांक ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

जयदीप गुर्जर

रतलाम. गणेश चतुर्थी आने के साथ देश भर में त्योहारों का सीजन शुरू हो जाता है. नवरात्र के नौ दिन में पूजा व सजावट के लिए फूलों की मांग बढ़ गई है. मध्य प्रदेश के रतलाम में नवरात्र के पहले दिन से रोजाना 20 टन फूल नीलामी के लिए आ रहे हैं. नवरात्र में सप्तमी से नवमी तकs18 के लिए फूलों की डिमांड बढ़कर तीन गुना हो जाएगी. इसको देखते हुए रतलाम से देश भर में फूलों को बाहर भेजा जा रहा है.

शहर के हरमाला रोड पर फूलों की नीलामी के लिए विशेष फूल मंडी है जिसका नाम महात्मा ज्योतिबा फुले के नाम पर रखा गया है. फूल मंडी के व्यापारी तेजपाल रेडा ने बताया कि इन दिनों 10 टन फूलों की खपत रतलाम शहर में ही हो रही है. शेष फूल दिल्ली, बड़ौदा, सूरत, दाहोद, बांसवाड़ा, जयपुर, मुंबई भेजे जा रहे हैं. रतलाम के फूलों की लोकल के साथ अन्य राज्यों में भी खूब डिमांड है.

मध्य प्रदेश के अलावा गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र के कई जिलों के गरबा पंडालों को रतलाम से भेजे फूल महका रहे हैं. हालांकि फूलों के भाव इस बार पिछले साल की तुलना में अधिक हैं. गुलाब का फूल 140 से 160 रुपये, गेंदा 40 से 50 रुपये, रजनीगंधा 350 से 400 रुपये प्रति किलो तक में बिक रहा है. यह दाम पिछले साल की तुलना में दोगुना है.

रतलाम जिले के गांवों में फूलों की खेती विशेषकर आलनिया, कुआझागर, रावटी, तीतरी, मांगरोल, बड़बाछरा, नलकुई, रूपाखेड़ा में बडे़ पैमाने पर होती है. इसके अलावा, इससे सटे हुए इलाकों और आसपास भी फूलों की काफी खेती होती है.

Tags: Madhya pradesh news, Mp news, Navratri Celebration, Navratri festival, Ratlam news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें