अपना शहर चुनें

States

प्रेम-प्रसंग में बहन की मौत के लिए जिम्मेदार आशिक की भाइयों ने कर दी हत्या, 5 गिरफ्तार

पुलिस ने आरोपियों और ममददगार समेत 5 लोगों को किया गिरफ्तार
पुलिस ने आरोपियों और ममददगार समेत 5 लोगों को किया गिरफ्तार

रतलाम के जावरा में बहन की मौत के प्रतिशोध का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. प्रेम- प्रसंग में बहन को मरने को मजबूर करने वाले आशिक की उसके भाइयों ने हत्या कर दी. पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है.

  • Share this:
रतलाम. जावरा में प्रेम- प्रसंग (love affair ) में बहन को मरने के लिए मजबूर करने वाले आशिक की भाइयों ने चाकुओं से गोदकर हत्या (murder) कर दी. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हथियार जब्त कर लिए हैं. जावरा शहर थाना पुलिस ने हत्याकांड के आरोपियों और उनके ममददगार सहित कुल 5 लोगों को गिरफ्तार(arrested) किया है. पुलिस कोर्ट से आरोपियों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ करने में जुटी है. रतलाम के एएसपी सुनील पाटीदार ने बताया कि  जावरा स्थित इकबाल गंज क्षेत्र में दशहरा मैदान से 10 अक्टूबर को एक युवक खून से लथपथ मिला था. पुलिस अस्पताल ले गई थी जहां डॉक्टरों ने उसे मृत बता दिया था. दो दिन बाद उस शव की पहचान 30 वर्षीय महेंद्र यादव के रूप में हुई थी.

भाई एक साल से थे उसकी हत्या की फिराक में 

हत्या के इस मामले की जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि महेंद्र जिस कॉलोनी में रहता था. उस कॉलोनी के तीन-चार युवक, हत्या के दिन के बाद से ही फरार हैं. पुलिस ने महेंद्र के परिजनों से जब पूछताछ की तो पता चला कि उसका एक साल पहले मोहल्ले की एक युवती से प्रेम संबंध थे. युवती गर्भवती हो गई थी, गर्भपात कराने के दौरान युवती की मौत हो गई थी. उस युवती मौत को लेकर उसके दोनों भाई सूरज और शिवा गुस्से में थे. दोनों एक साल महेंद्र की हत्या की प्लानिंग कर रहे थे पर उन्हें अवसर नहीं मिल रहा था. 10 अक्टूबर की शाम मृत युवती के भाई शिवा और सूरज को मौका मिल गया. दोनों भाइयों और उनके दो दोस्तों ने मिलकर महेंद्र को सुनसान मैदान में बुलाया. वहां पहुंचने पर उस पर चाकुओं से ताबड़तोड़ वार कर सभी फरार हो गए.



कड़ियां जोड़कर पुलिस ने कर दिया मामले का खुलासा 


मीडिया को घटना की जानकारी देते रतलाम के एएसपी सुनील पाटीदारआसपास से गुजरते लोगों की नजर अब घायल महेंद्र पर पड़ी तो लोगो ने उसे पुलिस की मदद से सरकारी अस्पताल में पहुंचाया. अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद से ही पुलिस महेंद्र से जुड़े लोगों से पूछताछ कर रही थी. पूछताछ में पुलिस को कई सुराग हाथ लगे. पुलिस ने कड़ियां जोड़ीं तो सारे मामले का खुलासा हो गया.

ये भी पढ़ें- हनी ट्रैप मामले में MP की महिला मंत्री का 'अजीबोगरीब' बयान
7 हॉकी खिलाड़ियों की कार पेड़ से टकराई, चार की मौत

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज