रतलाम में डोडिया राजवंश का महल गिरा, रानी की दबकर मौत

रानी ज्योतिकुंवर की फाइल फोटो
रानी ज्योतिकुंवर की फाइल फोटो

घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे, मलबा हटाकर रानी को बहार निकाला गया, तब तक वे दम तोड़ चुकी थीं.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के रतलाम में सुखेड़ा गांव में बीती रात पुराने महल की दीवार गिरने से दर्दनाक हादसा हुआ है. इस दीवार में दबाकर 85 वर्षीय रानी ज्योतिकुंवर की मौत हो गई. हादसा उस समय हुआ जब सुखेड़ा की इस गड़ी (महल) में कोई भी नहीं था. दीवार गिरने से 85 वर्षीय रानी ज्योतिकुंवर भी मलबे में दब गईं.

दरअसल, सोमवार शाम घर का काम निपटाने के बाद कर्मचारी चले गए इसके बाद  रात 8 बजे राजमहल के आगे का हिस्सा भरभरा कर गिर गया. पड़ोस में रहने वाली रानी की कर्मचारी कमलाबाई ने यह देख शोर मचाया और ग्रामीणों को सूचना दी.

घटना की जानकारी मिलने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे, मलबा हटाकर रानी को बहार निकाला गया, तब तक वे दम तोड़ चुकी थीं. रानी ज्योतिकुंवर डोडिया राजवंश से है. उनके पुत्र उदयपुर में प्रॉपर्टी व्यवसाई है. सुखेड़ा ग्वालियर स्टेट का हिस्सा है, जहां डोडिया राजवंश का राजमहल है, जिसे गड़ी कहा जाता है.



सुखेड़ा गड़ी के अंतर्गत 21 राजपूतो के ठिकाने भी आते हैं. बहरहाल पिपलौदा थाना पुलिस हादसे की जांच में जुटी है. आशंका यही जताई जा रही है की बारिश की वजह से दीवार कमजोर होकर गिरी है.
ये भी पढ़ें- हिट एंड रन: स्कॉर्पियो ने पूरे शहर में मचाया कोहराम, दो पुलिसकर्मी समेत कई घायल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज