तो क्या रतलाम के इस शेल्टर होम से होती थी बच्चियों की तस्करी!

गैंगरेप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जावरा के कुंदन कुटीर बालिका आश्रय गृह से गई 280 से ज्यादा बच्चियों से पुलिस पूछताछ कर उनके बयान दर्ज करेगी. अगर मामले में कोई गड़बड़ी पाई जाती है तो पुलिस आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ करेगी.

  • Share this:
मध्यप्रदेश के रतलाम शेल्टर होम यौन शोषण मामले में पुलिस अब मानव तस्करी के नजरिए से जांच करेगी. मामले में रतलाम एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि जावरा के कुंदन कुटीर बालिका आश्रय गृह से गई 280 से ज्यादा बच्चियों से पुलिस पूछताछ कर उनके बयान दर्ज करेगी. अगर मामले में कोई गड़बड़ी पाई जाती है तो पुलिस आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ करेगी. पुलिस ने इस पूरे मामले में जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है जो 15 दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.

हालांकि इस मामले में अब नया मोड़ सामने आया है. बाल अधिकार संरक्षण से सदस्य ने कहा है कि किसी बच्ची से रेप नहीं हुआ है, जबकि बच्चियों के यौन शोषण की बात उन्होंने स्वीकारी है. इस पूरे मामले में महिला बाल विकास विभाग की नाकामी भी सामने आई है.

दरअसल, आवास गृह की संचालिका रचना भारती और उसके पति पर यहां रहने वाली बच्चियों के साथ यौन शोषण, मारपीट और उन्हें भूखा रखने के गंभीर आरोप है. 23 जनवरी को 5 बच्चियां शेल्टर होम से निकल गई थी, जब वे पकड़ाई जो जाबरा का यह बहुचर्चित शेल्टर होम यौन शोषण मामला सामने आया था. इस मामले में पुलिस अब तक 6 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, जिसमें बालिका आवास गृह की पूर्व और वर्तमान अधीक्षिका शामिल है.

आपको बता दें कि इस मामले में महिला बाल विकास विभाग की अधिकारी सुषमा भदौरिया को सस्पेंड कर दिया है और महिला सशक्तिकरण अधिकारी रविंद्र मिश्रा पहले ही निलंबित किए जा चुके हैं. रतलाम जिले के जावरा में स्थित शेल्टर होम कुंदन कुटीर आश्रय गृह में बच्चियों का यौन शोषण का मामला सामने आया था. बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष और उनके पति पर शोषण का आरोप लगा है. रचना भारती शराब पीकर बच्चियों से मारपीट करती थी और फिर अपने पति से उनका यौन शोषण करवाती थी. पिछले हफ्ते शेल्टर होम से भागी पांच बच्चियों ने ये खुलासा किया है.

यह भी पढ़ें-  इस शेल्टर होम की मालकिन शराब पीकर पति से करवाती थी बच्चियों का यौन शोषण

यह भी पढ़ें-  रतलाम: शौचालय की खिड़की तोड़ आश्रय गृह से पांच बालिकाएं फरार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.