अपना शहर चुनें

States

नौकरी का बहाना देकर विदेश में बेंचा, अब कर रहे प्रताड़ित

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

रतलाम में कई दिनों से एक बुजुर्ग महिला विदेश में फंसी अपनी बेटी को बचाने के लिए प्रशासन से गुहार लगा रही है. काजीपुरा की रहने वाली इस महिला का नाम गोमा बी है जिसकी बेटी को कबूतरबाजी के दलालों ने अपने चंगुल में फंसाकर और ऊंची रकम देने के नाम पर सऊदी अरब भेज दिया. दलालों ने नारी बी को विदेश भेज दिया. अब घर मालिक उसे कमरे में बंद कर उस पर जुल्म ढा रहे हैं.

  • Share this:
रतलाम में कई दिनों से एक बुजुर्ग महिला विदेश में फंसी अपनी बेटी को बचाने के लिए प्रशासन से गुहार लगा रही है. काजीपुरा की रहने वाली इस महिला का नाम गोमा बी है जिसकी बेटी को कबूतरबाजी के दलालों ने अपने चंगुल में फंसाकर और ऊंची रकम देने के नाम पर सऊदी अरब भेज दिया. दलालों ने नारी बी को विदेश भेज दिया. अब घर मालिक उसे कमरे में बंद कर उस पर जुल्म ढा रहे हैं.

फरियादी गोमा बी की माने तो सात महीने पहले रतलाम के इमरान नाम के एक दलाल ने उसकी बेटी को सऊदी अरब में अच्छी सैलरी देने के नाम पर पासपोर्ट तैयार करवाया. फिर मुंबई के दो कबतूरबाज बाप बेटे, रईस और फिरोज से सेटिंग कर उसे विदेश भेज दिया.

एक महीने तो सब कुछ ठीक चला लेकिन बाद में नौकरी की हकीकत सामने आ गई. घर के काम करने के बाद भी नारी बी को प्रताड़ित किया जाने लगा. इतना ही नहीं, मालिक द्वारा सैलरी नहीं दी गई. और कई दिनों तक भूखा रखकर प्रताड़ित किया जाने लगा.



फोन पर जब बेटी ने अपनी मां को, टार्चर किए जाने की बात बताई तो हकीकत सामने आई. जिसके बाद गोमा बी ने दलालो से बात की तो वे उसकी बेटी को वापस बुलाने के 1 लाख 80 हजार रूपए मांगने लगे.अब परेशान मां सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगा रही है कि उसकी बेटी को कैसे भी अपने मुल्क वापस लाया जाए. वहीं रतलाम के एडिशनल एसपी ने फरियादी को हर संभव मदद देने का आश्वासन दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज