Assembly Banner 2021

Video: रतलाम में कांग्रेस नेता घुसे महिला तहसीलदार के दफ्तर, साफ शब्दों में ऐसे दी धमकी

कांग्रेस के नेता ने ड्यूटी पर मौजूद महिला तहसीलदार को न सिर्फ धमकी दी बल्कि उनके लिए अपशब्दों का भी प्रयोग किया (वायरल वीडियो से इमेज ग्रैब)

कांग्रेस के नेता ने ड्यूटी पर मौजूद महिला तहसीलदार को न सिर्फ धमकी दी बल्कि उनके लिए अपशब्दों का भी प्रयोग किया (वायरल वीडियो से इमेज ग्रैब)

मध्य प्रदेश के रतलाम में एक कांग्रेस नेता द्वारा महिला तहसीलदार से अभद्र व्यवहार करने का वीडियो वायरल हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 28, 2021, 10:00 AM IST
  • Share this:
रतलाम. मध्य प्रदेश के रतलाम (Ratlam) में एक कांग्रेस नेता द्वारा महिला तहसीलदार से अभद्र व्यवहार करने का मामला सामने आया है. इस घटना का वीडियो वायरल (Video Viral) हुआ है. इस वीडियो में आलोट से कांग्रेस नेता वीरेंद्र सिंह सोलंकी (Virendra Singh Solanki) महिला तहसीलदार को धमकी देते हुए दिख रहे हैं. यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. मामला जावरा के पिपलौदा तहसील कार्यालय का बताया जा रहा है. इसमें कांग्रेस नेता वीरेंद्र सिंह सोलंकी ने महिला तहसीलदार किरण बरबड़े को धमकी देते हुए सुनाई दे रहे हैं, 'जिंदगी भर बीजेपी की सरकार नहीं रहेगी. आपकी 10-20 साल की नौकरी बची है,  खोदकर ले आएंगे आपको. चमचागिरी का तरीका बदल देना तहसीलदार मैडम..!'

दरअसल, कांग्रेस नेता वीरेंद्र सिंह सोलंकी सीमांकन के एक मामले में तहसीलदार से मिलने पहुंचे थे. कांग्रेस नेता का आरोप है की पटवारी एक मामले में 10 हजार की रिश्वत मांग रहा है. इसी मामले में उन्होंने पिपलौदा तहसीलदार से मिलने ले लिए फोन लगाया था. पहले तो तहसीलदार किरण बरबड़े ने उनसे मिलने से मना कर दिया, फिर उन्होंने मिलने के लिए सोमवार बुलवाया था. इसके बाद वे तहसीलदार से मिलने पहुंचे थे, लेकिन बात बिगड़ गई. उन्होंने बीजेपी विधायक के इशारे पर कांग्रेस के लोगों के काम अटकाने के आरोप लगाए हैं.

घटना के बाद से तहसीलदार किरण बरबड़े की तबियत खराब बताई गई है. उन्हें बुखार है. तहसीलदार का कहना है कि कांग्रेस नेता उनसे नियमों के विपरीत काम करने का दबाव बना रहे थे. उन्होंने इस मामले में कांग्रेस नेता की शिकायत करने से इंकार किया है.
Youtube Video

गौरतलब है कि इसके पहले भी आलोट से कांग्रेस विधायक मनोज चावला का पटवारी से बदसलूकी का ऑडियो वायरल हुआ था. उसके बाद सैलाना से कांग्रेस विधायक हर्ष गेहलोत ने एसडीम से बदसलूकी की. और अब जिला पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह राठौर का नाम भी इस लिस्ट में जुड़ गया है. इस मामले के बाद सबसे बड़ी बात ये है कि सभी मामलों में राजस्व के अधिकारी ही कांग्रेस के निशाने पर क्यों  हैं ? क्या वाकई राजस्व के अधिकारी जनता के काम नहीं कर रहे हैं, जिसके लिए कांग्रेस नेताओं को उन्हें धमकाने की नौबत आ गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज