होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /अमेरिका में गूंज रही रतलाम की थाप, विदेशी धरती पर हुनर दिखा रहे कलाकार

अमेरिका में गूंज रही रतलाम की थाप, विदेशी धरती पर हुनर दिखा रहे कलाकार

फोटो : अमेरिका के एक शहर में आयोजित गरबा रास

फोटो : अमेरिका के एक शहर में आयोजित गरबा रास

Indian Culture and Tradition: रतलाम के युवा ड्रमर जितेंद्र इन दिनों अमेरिका के कई शहरों में गरबा इवेंट करवा रहे हैं. जि ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : जयदीप गुर्जर

रतलाम. नवरात्र आते ही सभी को गरबा की याद आती है और गरबे को याद करते ही मन में संगीत की धुन बजने लगती है. नवरात्र का उत्साह और उल्लास देश के साथ विदेश में भी भरपूर बना हुआ है. खास बात यह है कि मध्य प्रदेश के रतलाम की थाप पर अमेरिका में मां दुर्गा के भक्त भक्तिभाव में डूबे हुए हैं.

रतलाम के युवा ड्रमर जितेंद्र इन दिनों अमेरिका के कई शहरों में गरबा इवेंट करवा रहे हैं. जितेंद्र सिंह चुंडावत पेशे से वकील हैं, जो इन दिनों अमेरिका के हॉस्टन, टैक्सेस, अंटलांटा सहित एम्सटर्डम में अपनी सुरमयी थाप से सभी को भक्ति रस में डूबोकर भारत का नाम रोशन कर रहे हैं. जितेंद्र बचपन से ही संगीत से जुड़े हैं. 18 वर्ष की आयु से उन्होंने ड्रम बजाना शुरू कर दिया था. वे दूसरी बार अमेरिका के में मुख्य आर्टिस्ट की भूमिका निभा रहे हैं. एक शो के दौरान जितेंद्र मुंबई के आरव एंटरटेंमेंट ग्रुप के लिए ड्रम बजा रहे थे. जिसके बाद ग्रुप के सदस्य उनकी इस कला से इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने जितेंद्र को अपने साथ अमेरिका चलने का ऑफर किया.

जितेंद्र की थाप पर झूमते विदेशी

इसके बाद कभी जितेंद्र ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और विदेशों में जमकर अपने फन का कमाल दिखलाया. वर्तमान में जितेंद्र अमेरिका के हॉस्टन, टैक्सेस, अंटलांटा और एम्स्टर्डम शहरों में गरबा के माध्यम से प्रतिदिन मां के आराधकों को झूमने के लिए मजबूर कर रहे हैं. आर्टिस्ट जितेंद्र सिंह ने बताया कि वे 2 नवंबर तक अमेरिका के विभिन्न शहरों में गरबा के आयोजन में शिरकत करते रहेंगे और लेवा पाटीदार समाज की ओर से अमेरिका में नवरात्र महोत्सव के बाद वह शरद पूर्णिमा तक विभिन्न शहरों में कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे. विदेशी धरती पर साधकों की मां की आराधना ने भारतीय कलाकारों के संगीत ने उत्साह को दोगुना कर दिया.

Tags: America, Mp news, Navratri Celebration, Ratlam news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें