होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /Ratlam: सड़क पर शव रखकर ग्रामीणों ने रतलाम-उदयपुर हाईवे किया जाम, पुलिस के खिलाफ भी की नारेबाजी

Ratlam: सड़क पर शव रखकर ग्रामीणों ने रतलाम-उदयपुर हाईवे किया जाम, पुलिस के खिलाफ भी की नारेबाजी

रतलाम में एक व्यक्ति की मौत के बाद जमकर हंगामा हुआ.

रतलाम में एक व्यक्ति की मौत के बाद जमकर हंगामा हुआ.

Ratlam News: रतलाम में एक व्यक्ति की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने रतलाम-उदयपुर हाईवे पर करीब चार घंटे शव रखकर प्रदर् ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- जयदीप गुर्जर

    रतलाम. मध्य प्रदेश के रतलाम में एक व्यक्ति की मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने रतलाम-उदयपुर हाईवे जाम करने का मामला सामने आया है. यही नहीं, करीब 4 घंटे तक परिजनों और ग्रामीणों ने शव हाईवे पर रखकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की. इसके अलावा वह एसपी और कलेक्टर को मौके पर बुलाने की बात पर अड़े हुए थे. मौके पर मौजूद अधिकारियों के समझाने के बाद एसपी से फोन पर चर्चा कर प्रदर्शन समाप्त किया.

    दरअसल रविवार सुबह रतलाम के ग्राम पलसोड़ा निवासी जगदीश (65 वर्ष) ने जहर पीकर आत्महत्या कर ली. मृतक का पुत्र मनोज इसी ग्राम पंचायत में सहायक सचिव है. मौत के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि वर्तमान में जेल में बंद गांव के पूर्व सरपंच कैलाश राठौड़ और उनके पुत्रों से परेशान होकर जगदीश को आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा. मृतक जगदीश के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है. हालांकि परिजन जगदीश को अचेत अवस्था में जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे, लेकिन ड्यूटी डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. वह शव मिलने के बाद परिजनों ने प्रदर्शन किया. प्रदर्शन की सूचना पर एसडीओपी सन्दीप निगवाल, सीएसपी हेमंत चौहान और पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा.

    पुलिस के खिलाफ दिखाई दिया आक्रोश
    ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि मृतक द्वारा पूर्व सरपंच कैलाश राठौड़ और उनके बेटों के कारण आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा है. मृतक के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें पूर्व सरपंच सहित उसके दोनों बेटों के नाम लिखे होने की बात भी सामने आ रही है. पुलिस ने सुसाइड नोट अपने पास रख लिया है. सुसाइड नोट में क्या लिखा है अभी पुलिस ने इस बारे में कुछ नहीं बताया है. इधर जाम लगने से मुख्य मार्ग होने के कारण वाहनों की लंबी कतार लग गई थी. ग्रामीण मौके पर कलेक्टर नरेंद्र सूर्यवंशी और एसपी अभिषेक तिवारी को बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे. इस दौरान वह पुलिस के रवैये के खिलाफ नारेबाजी भी कर रहे थे.

    Tags: Ratlam news

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें