अपना शहर चुनें

States

रतलाम बनेगा प्रदेश का 11वां संभाग, सीएम शिवराज करेंगे घोषणा

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले को प्रदेश का 11 वां संभाग बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी हैं. रतलाम, मंदसौर, नीमच के साथ ही झाबुआ और अलीराजपुर जिलों को मिलाकर, यह नया संभागीय मुख्यालय आकार लेगा.
मध्य प्रदेश के रतलाम जिले को प्रदेश का 11 वां संभाग बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी हैं. रतलाम, मंदसौर, नीमच के साथ ही झाबुआ और अलीराजपुर जिलों को मिलाकर, यह नया संभागीय मुख्यालय आकार लेगा.

मध्य प्रदेश के रतलाम जिले को प्रदेश का 11 वां संभाग बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी हैं. रतलाम, मंदसौर, नीमच के साथ ही झाबुआ और अलीराजपुर जिलों को मिलाकर, यह नया संभागीय मुख्यालय आकार लेगा.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के रतलाम जिले को प्रदेश का 11 वां संभाग बनाने की तैयारी शुरू हो चुकी हैं. रतलाम, मंदसौर, नीमच के साथ ही झाबुआ और अलीराजपुर जिलों को मिलाकर, यह नया संभागीय मुख्यालय आकार लेगा.

राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष और विधायक चैतन्य कश्यप के अनुसार 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान इस मुद्दे पर सीएम हामी भर चुके थे और अब शासन स्तर पर भी तैयारियां शुरू हो गई हैं.

दरअसल, मंदसौर और आसपास के जिलों में हुए किसान आंदोलन के उपद्रव के बाद अब राजनीति के लिहाज से भी रतलाम का संभाग बनना बीजेपी के लिए फायदे का सौदा साबित होगा. यही वजह है की रतलाम संभाग की घोषणा जल्द होने की उम्मीद है.



गौरतलब है कि रतलाम, मंदसौर नीमच और झाबुआ अलीराजपुर जिलों का सेंटर पॉइंट है, और ये चारो जिले सीधे, रेल और सड़क मार्ग से रतलाम से जुड़े हैं. ऐसे में बड़े अफ़सरों को मॉनिटरिंग और मीटिंग के लिए सुविधा होगी. वहीं सभी आदिवासी जिलों के एक ही संभाग में आने से योजनाओ का क्रियान्वयन में तेजी आएगी. अब इंतज़ार सिर्फ सीएम की घोषणा का है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज