अपना शहर चुनें

States

टिकट मांगने नहीं, काटने के लिए हाईकमान को लिखी चिट्ठी

फैय्याज मंसूरी (बाएं) और पारस सकलेचा.
फैय्याज मंसूरी (बाएं) और पारस सकलेचा.

कांग्रेस के पूर्व पार्षद और वरिष्ठ नेता फैय्याज मंसूरी ने अब राहुल गांधी को पत्र लिखकर पैराशूट नेताओं को टिकट नहीं देने की मांग की है.

  • Share this:
मध्‍यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी-कांग्रेस में अभी टिकट बंटा भी नहीं हैं, लेकिन रतलाम में टिकट काटने के लिए लेटरबाजी का दौर शुरू हो गया है. कांग्रेस के पूर्व पार्षद और वरिष्ठ नेता फैय्याज मंसूरी ने अब राहुल गांधी को पत्र लिखकर पैराशूट नेताओं को टिकट नहीं देने की मांग की है. उनका इशारा व्यापम के व्हिसल ब्लोअर पारस सकलेचा की ओर है, जो कुछ महीने पहले ही कांग्रेस में शामिल हुए हैं. सकलेचा आम आदमी पार्टी से कांग्रेस में आए हैं.

मंसूरी का कहना है कि जिन लोगों ने पिछले 15 सालों से बीजेपी के खिलाफ मैदान संभाला है, पार्टी उनमें से किसी एक को टिकट दे, न कि किसी दलबदलू को. वहीं इस मामले में कांग्रेस नेता पारस सकलेचा का कहना है कि वे पैराशूट नहीं बल्कि स्थानीय नेता हैं. कई सालो से क्षेत्र में सक्रि‍य हैं. सकलेचा ने कहा कि मंसूरी किसी और के कहने पर उन पर तीर चला रहे हैं.

कांग्रेस में ऐसी फूट-फजीहत हो तो बीजेपी कहां चुप बैठने वाली है. बीजेपी नेता भी इस मामले में चुटकी ले रहे हैं. बीजेपी महामंत्री का कहना है कि कांग्रेस में ये तो शुरुआत है और कांग्रेस की संस्कृति भी यही है. बहरहाल रतलाम कांग्रेस में जारी इस घमासान को देखकर यह कहना गलत नहीं होगा कि इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की राह आसान नहीं है.



यह भी पढ़ें- ‘मुख्यमंत्री को उन्हीं के विधानसभा क्षेत्र में हराने के लिए कांग्रेस से मांगा टिकट’
यह भी देखें- व्यापम महाघोटाले को घर-घर तक पहुंचाने में लगे व्हिसिल ब्लोअर पारस सकलेचा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज