चोर ने VIDEO बनाया और 'टिक-टॉक' के ज़रिए पुलिस पहुंच गयी उसके घर...

इस शातिर चोर का नाम मुकेश है जो अपने पूरी गैंग के साथ गाजियाबाद से नेटवर्क चला रहा था

Sudhir Jain | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 1, 2019, 11:34 AM IST
Sudhir Jain | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 1, 2019, 11:34 AM IST
टिक टॉक की लत ने ट्रेन में यात्रियों का सामान चुराने वाले एक पेशेवर गिरोह का पर्दाफ़ाश कर दिया. गिरोह का सरगना अब सलाखों के पीछे है.रतलाम  जीआरपी थाने का यह रोचक मामला है.यहां एक चोर को अपने टिक- टॉक वीडियो बनाकर फेसबुक पर अपलोड करना भारी पड़ गया.

यात्रियों का सामान चुराते थे
सायबर सेल की मदद से पुलिस ने इस टिकटॉक प्रेमी चोर को पकड़ लिया. इस शातिर चोर का नाम मुकेश है जो अपने पूरी गैंग के साथ गाजियाबाद से नेटवर्क चला रहा था. चोरों का यह गैंग मुंबई से दिल्ली के बीच ट्रेनों में मुसाफिरों को अपना शिकार बनाता था. ये बदमाश यात्रियों के मोबाइल और सामान पर हाथ साफ कर फरार हो जाते थे.

ट्रेनों में यात्रियों का सामान चुराता था मुकेश


टिक-टॉक की लत
गिरोह के सरगना मुकेश को टिक-टॉक की लत थी. मुकेश ने हर बार यात्रियों के मोबाइल चुराए और उससे ही अपने टिक-टॉक वीडियो बनाकर फेसबुक पर अपलोड कर दिए.  वीडियो देखकर पुलिस को शक हुआ. उसके बाद सायबर सेल ने जांच की तो टिक-टॉक प्रेमी चोर की सारी हकीकत सामने आ गई.

2 लाख का माल बरामद
Loading...

जीआरपी काफी दिनों से चोरों को पकड़ने के लिए जाल बिछाए हुए थी. मोबाइल सर्विलांस और सीसीटीवी के ज़रिए मुकेश को ट्रेस कर सायबर सेल ने उसे धरदबोचा. पुलिस ने इस शातिर चोर से 10 मोबाइल फोन सहित 2 लाख रुपए का माल भी ज़ब्त किया है.

मुकेश गाज़ियाबाद से रैकेट चला रहा था


मुकेश और उसके गिरोह के खिलाफ रतलाम और उज्जैन जीआरपी में आधा दर्जन मामले दर्ज हैं.बहरहाल रतलाम की जीआरपी इस रोचक टिक- टॉक गैंग के दूसरे साथियों की तलाश में जुटी है.

ये भी पढ़ें-महाकाल मंदिर के बाहर युवक की पिटाई, VIDEO वायरल


First published: August 1, 2019, 9:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...