अजब-ग़ज़ब : हाथी दादा को चाय पसंद है! ख़ास रेस्तरां में ही लेते हैं चुस्की, देखें Video
Ratlam News in Hindi

अजब-ग़ज़ब : हाथी दादा को चाय पसंद है! ख़ास रेस्तरां में ही लेते हैं चुस्की, देखें Video
रतलाम में हाथी को चाय की लत लगी

हाथी (Elephant) की चाय के प्रति दीवानगी आपको रतलाम में देखने को मिलेगी. यहां का एक हाथी एक दुकान पर रोज सुबह चाय पीने पहुंचता है. दुकान पर हाथी के चाय पीने का यह दृश्य देखने हर सुबह लोग जमा होते हैं. आप भी देखें Video.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 15, 2020, 12:30 PM IST
  • Share this:
रतलाम. इंसानों के तो कई शौक हमने देखे-सुने हैं. लेकिन हाथी (Elephant) का शौक शायद ही कहीं देखा हो. खबर रतलाम (Ratlam) से है जहां एक हाथी को चाय (tea) की लत लग गई है. गजराज, रोज एक दुकान पर पहुंच जाते हैं और डिमांड पूरी होने पर ही आगे बढ़ते हैं. जी हां, चाय के शौकीन तो करोड़ों लोग हैं, लेकिन चुस्की अगर हाथी ले रहा हो, तो आपका चौंकना लाजिमी है. जंगल के सबसे बड़े सदस्य कहे जाने वाले हाथी दादा भी अब चाय के दीवाने हो गए हैं. चाय की यह लत लगी है रतलाम में एक हाथी को. वो सुबह होते ही बाज़ार में चाय की एक दुकान पर पहुंच जाता है. चाय नहीं मिलने पर यह हाथी वहीं अड़ कर बैठ जाता है. जैसे ही चाय दो, वह पीकर आगे बढ़ जाते हैं. दुकानदार भी हाथी की आदत से वाकिफ हैं, इसलिए आगे बढ़कर उन्हें अपने हाथों से चाय बनाकर पिलाते हैं और गणपति बप्पा का रूप मानकर आशीर्वाद लेते हैं.

खास रेस्टोरेंट की चाय पसंद है

रतलाम के डालू मोदी चौराहे पर यह दृश्य रोज देखा जा सकता है. मज़ेदार बात ये है कि हाथी दादा सिर्फ एक ही दुकान पर पहुंचते हैं. उसके सिवाय वो कहीं और की चाय पीना पसंद नहीं करते. जब कोई दूसरे चायवाले उन्हें चाय पिलाने की कोशिश करते हैं तो हाथी राजा सूंघकर आगे बढ़ जाते हैं. अब ये समझने की बात है कि हाथी को इस रेस्टोरेंट की पहचान हो गई है. महावत जैसे ही सुबह हाथी को लेकर निकलता है, हाथी इस रेस्टोरेंट पर पहुंचकर खड़ा हो जाता है. उन्हें यहां की चाय का स्वाद इतना भा गया है कि ये भी अपने दिन की शुरुआत यहां की चाय से ही करते हैं. ये स्वाद इन्हें अभी-अभी ही लगा है. पिछले 8 दिन से हाथी लगातार इस दुकान पर आकर चाय का आनंद ले रहा है.




ऐसे लगी लत

हाथी का महावत बताता है कि वो चाय पीने के लिए इस दुकान पर रुकते रहे हैं. एक दिन दुकानदार ने हाथी को भी चाय पिला दी. बस उस दिन के बाद से हाथी की ज़ुबान पर भी चाय का चस्का लग गया है. हर दिन सुबह 8 बजे आकर दुकान के सामने खड़े हो जाते हैं. दुकानदार भी बड़े प्रेम से इस हाथी के लिए चाय बनाता है और उनके कद-काठी को देखते हुए बड़े लोटे में भरकर उसे पिलाता है. हाथी राजा की चाय पूरी तरह निःशुल्क होती है.

रतलाम के इस हाथी के चाय पीने की चर्चा शहरभर में फैल गई है. उसे देखने के लिए सुबह से लोग यहां पहुंचने लगते हैं. दुकानदार और आसपास के लोग हर दिन हाथी दादा का इंतज़ार करते हैं. हाथी को चाय पिलाकर और उनके दर्शन के बाद ही अपना कामकाज शुरू करते हैं.

ये भी पढ़ें-

पाकिस्तान से आ धमके बिन बुलाए मेहमान, पानी फेंककर भगा रहे हैं भोपाली

Unlock : आज से खुल गया कान्हा नेशनल पार्क, सोशल डिस्टेंस के साथ जंगल सफारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading