रीवा में पार्टी के लिए ले गए मित्रों ने छात्र की हत्या की, नदी में मिली लाश

Anchal Shukla | News18 Madhya Pradesh
Updated: August 28, 2019, 6:15 PM IST
रीवा में पार्टी के लिए ले गए मित्रों ने छात्र की हत्या की, नदी में मिली लाश
रीवा - पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर संदिग्धों से पूछताछ शुरू कर दी है.

तीन दिन पूर्व रहस्यमय ढंग से लापता हुए एमएसडब्ल्यू कॉलेज के छात्र का शव नदी में मिला. रीवा पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव को बाहर निकलवाया. हत्या की इस घटना से गुस्साए छात्र प्रदर्शन कर एसआईटी जांच की मांग कर रहे हैं.

  • Share this:
रीवा में तीन दिन पूर्व रहस्यमय ढंग से लापता हुए एमएसडब्ल्यू कॉलेज (MSW College) के छात्र (Missing Student) का शव नदी में मिला है. रीवा पुलिस ने गोताखोरों की मदद से शव (Dead Body Found in River) को बाहर निकलवाया. इस घटना से गुस्साए कॉलेज के छात्रों ने जमकर हंगामा मचाया और कॉलेज चौराहे पर जाम लगा दिया. घंटों की समझाइश के बाद पुलिस ने जाम खुलवाया. छात्र और परिजनों का आरोप है कि पुलिस आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रही है. लोग इस हत्या की जांच के लिए एसआईटी (SIT) की मांग कर रहे हैं.



टीआरएस कॉलेज में अध्ययनरत एमएसडब्ल्यू के छात्र प्रशांत मिश्रा निवासी रायपुर कर्चुलियान को 3 दिन पूर्व कुछ युवक फोर व्हीलर वाहन से चंद्रलोक होटल (Chandralok Hotel) में पार्टी के लिए ले गए थे. प्रशांत उसके बाद से ही लापता हो गया. परिजनों ने प्रशांत के लापता होने की की शिकायत विश्वविद्यालय थाने में दर्ज कराई. पुलिस ने जब प्रशांत को पार्टी में ले जाने वाले उसके दोस्तों अम्बिकेश द्विवेदी और लवकुश पांडेय को पकड़ कर उनसे सख्ती से पूछताछ की तब उन्होंने छात्र को गोली मारकर शव को बीहर नदी (Bihar River) में फेंकने की बात कही.

SIT जांच की मांग

पुलिस ने इसके बाद होमगार्ड के जवानों को बुलवाकर बीहर नदी में लाश को ढूंढना शुरू किया. पुलिस ने बैकुंठपुर थाने के कटकी गांव में लापता छात्र का शव बरामद कर लिया. छात्र का शव नदी के किनारे फंसा हुआ था. उधर घटना से नाराज छात्रों ने कॉलेज चौराहे में जाम लगा दिया. छात्र आरोपियों के खिलाफ एसआईटी (SIT) जांच किए जाने की मांग कर रहे थे. जाम की सूचना मिलते ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव कुमार वर्मा भारी पुलिस बल सहित मौके पर पहुंचे. उन्होंने आक्रोशित छात्रों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया. इसके बाद ही छात्र जाम खोलने को राजी हुए.

एडिशनल एसपी ने पूरे मामले की जांच कराने सहित इसमें शामिल अन्य लोगों को पकड़ने की बात कही है.


पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर संदिग्धों से पूछताछ शुरू कर दी है. छात्रों और परिजनों का आरोप है कि मऊगंज में पदस्थ डीएसपी राजीव पाठक का आरोपियों के साथ उठना बैठना है. वो आरोपियों को बचाने का प्रयास कर रहे हैं. वहीं एडिशनल एसपी ने पूरे मामले की जांच कराने और आरोपियों को गिरफ्तार करने का भरोसा दिया है. पुलिस ने मऊगंज थाना प्रभारी पर लगे आरोपों की भी जांच कराकर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है.
Loading...

ये भी पढ़ें - बागली के जैन मंदिर में डाका, पुलिस को देखकर भागे डकैत

ये भी पढ़ें - सिंधिया का नाम आते ही कांग्रेस में शुरू हो जाती है गोलबंदी!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रीवा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2019, 6:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...