रीवा: ADJ की जान बचाने के लिए पहली बार बना ग्रीन कॉरिडोर, 10 मिनट के लिए थम गया शहर

रीवा में एडीजे की जान बचाने के लिए 10 किलोमीटर का ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया है.

रीवा के संजय गांधी अस्पताल से चोरहटा हवाई पट्टी तक 10 किलोमीटर तक के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया, इस दौरान 10 मिनट के लिए शहर को थाम लिया गया. जिससे एडीजे की जान बचाई जा सके.

  • Share this:
    अर्पित पांडेय, रीवा. मध्य प्रदेश रीवा के संजय गांधी अस्पताल से चोरहटा हवाई पट्टी तक 10 किलोमीटर के सफर को तय करने के लिए आज तकरीबन 10 मिनट तक शहर को थाम दिया गया. ये सब सिंगरौली में पदस्थ ADJ संजय द्विवेदी की जान बचाने के लिए किया गया. इसके बाद संजय द्विवेदी को एअरलिफ्ट के माध्यम से दिल्ली के मणिपाल अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया बताया जा रहा है, पोस्ट कोविड कॉम्प्लिकेशन के चलते एडीजे की तबीयत खराब हुई थी, जिनके इलाज के लिए यह व्यवस्था बनाई गई.

    रीवा के संजय गांधी अस्पताल में बीते डेढ़ माह से इलाजरत सिंगरौली में पदस्थ एडीजे संजय द्विवेदी को आज दिल्ली के मणिपाल अस्पताल रेफर किया गया है. जिसके लिए रीवा में आज पहली बार ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया. ग्रीन कॉरिडोर के तहत तकरीबन 10 किलोमीटर के एरिया पर 10 मिनट तक के लिए शहर को थाम दिया गया था. जिसके बाद एअरलिफ्ट के माध्यम से एडीजे संजय द्विवेदी को दिल्ली भेजा गया. दरअसल संजय गांधी अस्पताल में 1 माह से ज्यादा समय बीत जाने के बावजूद जब ए डी जे संजय द्विवेदी की हालत में सुधार नहीं आया. परिजनों के द्वारा एडीजे को दिल्ली रेफर कराया गया जिसके लिए बकायदा 10 किलोमीटर के एरिया में ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया.

    डॉक्टरों की माने तो लगभग 1 माह से पोस्ट कोविड कॉम्प्लिकेशन के चलते एडीजे संजय द्विवेदी का इलाज किया जा रहा था, जिसके बाद आज परिजनों की माग पर उन्हें दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया. इस दौरान प्रशासनिक अमले के द्वारा ग्रीन कॉरिडोर की व्यवस्था कराई गई. 10 मिनट तक के लिए शहर को थाम दिया गया. ग्रीन कॉरिडोर के दौरान शहर के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती की गई थी, जिससे बीच में किसी भी प्रकार से यातायात बाधित ना हो सके.