होम /न्यूज /मध्य प्रदेश /यूपी के धान की एमपी में तस्करी : कलेक्टर के पास आया फोन, फिर पड़ा छापा और मिला लाखों का माल..

यूपी के धान की एमपी में तस्करी : कलेक्टर के पास आया फोन, फिर पड़ा छापा और मिला लाखों का माल..

अवैध रूप से धान की भंडारण की सूचना रीवा कलेक्टर मनोज पुष्प को मिली थी. इस पर कार्रवाई की गई है.

अवैध रूप से धान की भंडारण की सूचना रीवा कलेक्टर मनोज पुष्प को मिली थी. इस पर कार्रवाई की गई है.

Paddy seized. मध्यप्रदेश के रीवा में प्रशासन ने अवैध रूप से बेची जा रही धान की खेप जप्त कर ली है. प्रशासन ने कड़ी कार्र ...अधिक पढ़ें

रीवा. त्योंथर तहसील के गाडरपूर्वा गांव में प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से रखी यूपी की धान को जप्त किया है. उत्तर प्रदेश की धान को मध्य प्रदेश के रीवा के सोनौली उपार्जन केंद्र में बिक्री के लिए रखा था. कलेक्टर मनोज पुष्प को इसकी सूचना मिली. उन्होंने तत्काल कार्रवाई करते हुए, पुलिस की एक टीम को भेजा गया. यहां से प्रशासन ने 540 बोरी धान जब्त की. इसकी कीमत 4 लाख 11 हजार 884 रुपए आंकी गई है.

जानकारी के मुताबिक रीवा जिले की त्योंथर तहसील के पास गाडरपूर्वा गांव में अवैध धान की सूचना रीवा जिला कलेक्टर मनोज पुष्प को मिली थी. इस पर प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से भंडारित की गई धान की खेप को जप्त कर लिया है. अधिकारियों ने बताया कि त्योंथर तहसील के इस गांव में मानिक लाल केवट और कृष्ण कुमार केवट के घर धान भंडारण की सूचना कलेक्टर मनोज पुष्प को उनके मोबाइल नंबर पर दी गई. इसके बाद कलेक्टर ने नागरिक आपूर्ति निगम, खाद विभाग और पुलिस विभाग की टीम को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए.

4 लाख रुपए कीमत की धान जप्त की गई 
त्योंथर के तहसीलदार ओपी सोनी और जिला प्रबंधक नागरिक आपूर्ति निगम के पंकज वोर्से ने सोनौरी से साथ कुल 540 बोरी धान जप्त की. इसकी कुल कीमत 4 लाख 11 हजार 884 रुपए है. यह धान प्लास्टिक की बोरियों में रखी गई थी. जब्त की गई धान का रिकॉर्ड मांगा गया. इन दोनों किसानों के पास कोई भी अभिलेख नहीं था. इसके बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें- उमा भारती के शराबबंदी अभियान को शिवराज के कैबिनेट मंत्री ने दिया खुला समर्थन

उत्तरप्रदेश से आने वाली धान पर लगाया प्रतिबंध 
जानकारी के मुताबिक मानिक लाल केवट और कृष्ण कुमार केवट के घर से उत्तर प्रदेश से लाकर अवैध रूप से सोनौरी खरीदी केंद्र में बेचने की कोशिश की गई. वहीं कलेक्टर मनोज पुष्प ने उत्तर प्रदेश के जिलों से धान की आवक और परिवहन पर प्रतिबंध लगा दिया है. ये प्रतिबंध 16 जनवरी 2023 तक रहेगा. धान एवं मोटा अनाज के परिवहन पर नजर रखने के लिए उड़नदस्ता गठित किया गया है.

Tags: Madhya pradesh latest news, Madhya pradesh news, Madhya Pradesh News Updates, Rewa News

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें