• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP News: रीवा में तेज बारिश से ढहा कच्चा मकान, 4 लोगों की मौत, 1 घायल, IMD ने जारी किया अलर्ट

MP News: रीवा में तेज बारिश से ढहा कच्चा मकान, 4 लोगों की मौत, 1 घायल, IMD ने जारी किया अलर्ट

मध्य प्रदेश के रीवा में आफत की बारिश हो रही है. कच्चे मकानों के गिरने का खतरा पैदा हो गया है.

मध्य प्रदेश के रीवा में आफत की बारिश हो रही है. कच्चे मकानों के गिरने का खतरा पैदा हो गया है.

Madhya Pradesh Mews: मध्य प्रदेश के कई हिस्सों में भारी बारिश ने आफत मचा रखी है. भिंड में जेल की दीवारें गिरने के बाद अब रीवा जिले में कच्चा मकान ढह गया है. मकान से 4 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं.

  • Share this:

रीवा. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) के रीवा जिले के बहेरी घुचियारी गांव में रविवार सुबह-सुबह हड़कंप मच गया. तेज बारिश की वजह से एक कच्चा मकान ढह गया. हादसे में एक ही परिवार की एक वृद्ध महिला सहित 5 सदस्य दब गए. इनमें से 4 की दर्दनाक मौत हो गई. जबकि, एक बच्ची गंभीर रूप से घायल है. बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सूचना मिलते ही कलेक्टर इलैयाराजा मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य का जायजा लिया.

जानकारी के मुताबिक, तेज बारिश के चलते मनोज पांडे का मकान रात में ही मलबे में तब्दील हो गया था. उसमें परिवार के 5 सदस्य दब गए. मरने वाले में केमली देवी (70 वर्ष), मनोज पांडे (27 वर्ष), मनोज पांडे की बेटी काजल पांडे (8 वर्ष) और अनन्या पांडे (4 वर्ष) शामिल हैं.  जबकि बेटी आंचल (6 वर्ष) गंभीर रूप से घायल है. देर रात में मकान गिरने से ग्रामीणों को इसकी खबर नहीं लगी. सुबह जब जानकारी मिली तो ग्रामीणों बचाव-राहत कार्य शुरू कर दिया. उन्होंने मलबे से शवों को बाहर निकाला और घायल बच्ची को अस्पताल भेजा. चूंकि, बारिश बहुत तेज थी और गांव तक जाने के लिए सड़क भी नहीं है, इस वजह से प्रशासनिक मदद तुरंत नहीं मिल सकी.

तीन दिनों से हो रही भारी बारिश
गौरतलब है कि रीवा में पिछले तीन दिनों से भारी बारिश हो रही है. नदी-नाले उफान पर हैं. सतना जिले के बकिया बराज के 12 गेट खोले गए हैं, जिसका सीधा असर रीवा पर हुआ है. इसकी वजह से तराई क्षेत्रों में पानी का स्तर जबरदस्त बढ़ गया है. इस बीच रविवार सुबह अचानक घुचियारी गांव में मकान ढहने से हड़कंप मच गया. कलेक्टर इलैयाराजा मौके पर पहुंचे और बचाव कार्य को देखा. उन्होंने 4 लोगों की मरने कि पुष्टि भी की.

13 जिलों में आफत की भविष्यवाणी
मध्य प्रदेश में मानसून कई जगहों पर लुका-छिपी का खेल खेल रहा है. एक तरफ तो नदियां-नाले उफान पर हैं, तो दूसरी तरफ 19 जिले अभी भी ऐसे हैं जहां सामान्य से कम बारिश हुई है. मौसम विभाग ने 13 से ज्यादा जिलों में अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. सबसे ज्यादा बारिश 148 मिमी श्योपुर जिले में हुई. प्रदेश में बारिश सामान्य से 4 फीसदी ज्यादा रिकॉर्ड हो गई है. मौसम विभाग ने जिन 13 जिलों में भारी से भारी बारिश को लेकर चेतावनी जारी की है उनमें रीवा, शहडोल और ग्वालियर-चंबल संभाग के जिले कटनी, मंडला, बालाघाट, पन्ना, छतरपुर, टीकमगढ़, निवाड़ी, नीमच और मंदसौर जिले शामिल हैं. मौसम विभाग के मुताबिक, जबलपुर, शहडोल, सागर, भोपाल, होशंगाबाद, उज्जैन और इंदौर संभाग के जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं.

इन जिलों में सामान्य से कम बारिश
अनूपपुर में 18 फीसदी, बालाघाट में  14 फीसदी, दमोह में  32 फीसदी, जबलपुर में  17 फीसदी, कटनी में 13 फीसदी,  पन्ना में 31 फीसदी, सागर में 8 फीसदी, सिवनी में 12 फीसदी, टीकमगढ़ में 22 फीसदी, बड़वानी में 29 फीसदी, बुरहानपुर में 17 फीसदी, धार में 26 फीसदी, हरदा में 9, होशंगाबाद 6 फीसदी, इंदौर में 22 फीसदी, झाबुआ में 3 फीसदी, खरगोन में 30 फीसदी, मुरैना में 18 फीसदी बारिश सामान्य से कम हुई.

श्योपुर का ग्वालियर से संपर्क कटा
श्योपुर जिले में बड़ी अनहोनी का खतरा मंडरा रहा है. भारी बारिश (Heavy Rain) की वजह से यहां का आवदा डैम ओवर फ्लो तो हो ही रहा है, उसमें दरारें भी पड़ गई हैं. इसे लेकर किसान और जनप्रतिनिधि प्रशासन के आगे चिंता जाहिर कर चुके हैं. बार-बार बताने के बावजूद अधिकारी मामले को अनसुना कर रहे हैं. इधर भारी बारिश की वजह से श्योपुर का ग्वालियर और शिवपुरी से संपर्क पूरी तरह कट गया है. गांवों में आवाजाही बंद हो गई है. घरों में पानी घुस गया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज