Home /News /madhya-pradesh /

रहस्यमय हालत में मिले रानी और राजकुमारी के शव, 5 साल पूर्व हुआ था राजा का निधन

रहस्यमय हालत में मिले रानी और राजकुमारी के शव, 5 साल पूर्व हुआ था राजा का निधन

छतरपुर जिले के नैगुवां स्थित रियासतकालीन महल में रानी और राजकुमारी के शव मिलने से सनसनी फैल गई है.

छतरपुर जिले के नैगुवां स्थित रियासतकालीन महल में रानी और राजकुमारी के शव मिलने से सनसनी फैल गई है.

छतरपुर जिले के नैगुवां स्थित रियासतकालीन महल में रानी और राजकुमारी के शव मिलने से सनसनी फैल गई है.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    छतरपुर जिले के नैगुवां स्थित रियासतकालीन महल में रानी और राजकुमारी के शव मिलने से सनसनी फैल गई है. दोनों दो दिन से महल में ही थीं और दरवाजे नहीं खुल रहे थे. पुलिस को मामला संदिग्ध लग रहा है.

    जानकारी के मुताबिक, जिले के नौगांव थाना इलाके की नैगुवां गांव में स्थित रियासत महल में रानी युवरानी पति विजय बहादुर सिंह (60) और राजकुमारी बेबी (40) के शव संदिग्ध अवस्था में मिले हैं.

    घटना का पता तब चला जब महल में दूध देने आने वाली वृद्धा ने दरवाजे खटखटाए. नहीं खुलने पर उसने गांव के लोगों बुला लिया. ग्रामीणों ने नौगांव थाना को जानकारी दी, तो एसडीओपी उमेश सिंह तोमर, थाना प्रभारी मृगेंद्र त्रिपाठी भी पहुंचे.

    दरवाजे खुलवाकर देखा तो युवरानी और उनकी राजकुमारी मृत अवस्था में पड़ीं थीं. राजकुमारी के हाथ का पंजा रूम हीटर पर रखा होने से जल चुका था. आंगन में टूटे दांत और किसी की शर्ट का बटन भी मिला. पुलिस ने बारीकी से जांच के लिए छतरपुर से एफएसएल और डॉग स्क्वार्ड को बुलाया. वहीं, शवों का पोस्टमार्टम के भेज दिया.

    दो दिन से दरवाजा बंद था
    दरअसल, युवरानी का पुत्र राजा बहादुरसिंह (45) अपनी पत्नी के साथ उत्तरप्रदेश के उरई में किसी शादी में शामिल होने के लिए गए थे. जिसके बाद से दो दिनों से महल के दरवाजे भी नहीं खुल रहे थे.

    राजा का हो चुका निधन
    नैगुवां रियासत के राजा विजय बहादुरसिंह का 5 वर्ष पहले सड़क दुर्घटना में निधन हो चुका है. जिसके बाद से उनकी पत्नी युवरानी (85), पुत्र राजा बहादुरसिंह (45) और बेटी बेबीराजा (40) महल में रहते थे.

    Tags: Chhatarpur news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर