ड्यूटी के दौरान गश खाकर सड़क पर गिरा स्वास्थ्य कर्मचारी, मेडिकल कॉलेज ने नहीं किया भर्ती
Sagar News in Hindi

ड्यूटी के दौरान गश खाकर सड़क पर गिरा स्वास्थ्य कर्मचारी, मेडिकल कॉलेज ने नहीं किया भर्ती
सागर में ड्यूटी के दौरान बेहोश होकर गिरा पैरा मेडिकल स्टाफर

साथी स्टाफ (staff) उन्हें लेकर फौरन ज़िला अस्पताल (district hospital) लेकर गए. वहां इलाज के बाद अब वॉरियर की हालत ठीक है.

  • Share this:
सागर. सागर (sagar) में आज एक कोरोना वॉरियर (Corona warriors) और उसका स्टाफ संकट में पड़ गया. कोरोना वॉरियर ड्यूटी के दौरान बेहोश होकर सड़क पर गिर पड़ा. लेकिन हमेशा लोगों को समय पर इलाज दिलाने वाले पैरा मेडिकल स्टाफ (Para medical staff) को खुद अपने इलाज के लिए इंतजार करना पड़ा.ये वाकया बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के गेट पर हुआ लेकिन स्टाफ की कमी बताकर बेहोश हुए कोरोना वॉरियर को एडमिट करने से मना कर दिया गया. साथी स्टाफ उन्हें लेकर फौरन ज़िला अस्पताल (district hospital) लेकर गए. वहां इलाज के बाद अब वॉरियर की हालत ठीक है.

सागर में आज अजीब स्थिति पैदा हो गयी जब कोरोना पेशेंट्स की सेवा में लगे एक कोरोना वॉरियर की ही तबियत बिगड़ गयी और वो गश खाकर सड़क पर गिर पड़े. ये वॉरियर हीरालाल प्रजापति थे. वो एंबुलेंस 108 के पैरा मेडिकल स्टाफ में तैनात हैं. हीरालाल पीपीई सूट पहने थे और कोरोना संक्रमित मरीजों को लेकर बीएमसी पहुंचे थे. मरीज़ों को टीबी अस्पताल से बीएमसी शिफ्ट किया जा रहा था. हीरालाल प्रजापति की ड्यूटी मोतीनगर लोकेशन पर थी. वो एंबुलेंस के साथ जैसे ही बीएमसी पहुंचे और मरीज़ों को एंबुलेंस से उतारने के लिए गाड़ी से उतरे वैसे ही अचानक लड़खड़ाए. साथ के लोग कुछ समझ पाते उससे पहले ही वो वहीं गश खाकर सड़क पर गिर पड़े.  ये वाकया बीएमसी के गेट हुआ लेकिन स्टाफ ने उन्हें भर्ती नहीं किया.

ड्यूटी पर तैनात थे वॉरियर
हीरालाल प्रजापति को गिरता देख उनके साथी घबरा गए. वो तत्काल उन्हें लेकर बीएमसी में दाखिल हुए.उनकी फौरन पीपीई ड्रेस उतारी गयी ताकि उन्हें हवा मिल सके. लेकिन हैरत की बात ये रही कि ऐसी हालत में भी हीरालाल का बीएमसी में इलाज नहीं किया गया.उसके बाद पैरामेडिकल स्टाफ उन्हें जिस एंबुलेंस में उनकी ड्यूटी थी तत्काल उसी में लेकर जिला चिकित्सालय पहुंचा. वहां फौरन उन्हें भर्ती कर लिया गया. इलाज के बाद हीरालाल प्रजापति स्वस्थ हैं.
गर्मी में हुए बेहाल


ऐसा लगता है कि भीषण गर्मी और नौतपा की तपा देने वाली धूप में अति व्यस्त ड्यूटी के कारण हीरालाल प्रजापति की तबियत बिगड़ी थी. पीपीई सूट पहने होने के कारण हो सकता है उसमें सफोकेशन हुआ हो.

ये भी पढ़ें-

Lockdown में चोरी करते पकड़ा गया चोर फिर पुलिस ने उसके घर पहुंचाया राशन

MP के सरकारी स्कूलों में कोरोना की 'एंट्री', इससे निपटने की क्या है प्लानिंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज