खुद को राज्यपाल बताकर विधायकों से फोन पर मांगे पैसे, साइबर पुलिस ने शुरू की जांच
Sagar News in Hindi

खुद को राज्यपाल बताकर विधायकों से फोन पर मांगे पैसे, साइबर पुलिस ने शुरू की जांच
मध्य प्रदेश साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने शुरू की मामले की जांच

सागर में अज्ञात व्यक्ति ने खुद को राज्यपाल (Governor) बताकर नरयावली और बीना विधायकों को फोन कर 7-7 लाख रूपयों की मांग की. दोनो विधायकों ने पुलिस में इस बात की शिकायत की है.

  • Share this:
सागर. सागर (Sagar) जिले के दो भाजपा विधायकों (BJP MLA) ने पुलिस में शिकायत की है कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने खुद को मध्य प्रदेश का राज्यपाल बताते हुए सोमवार को उन्हें फोन कर 7-7 लाख रुपये देने की मांग की. इस राशि को एक बैंक खाते में हस्तांतरित करने को कहा.  जिन विधायकों को यह फोन आया, उनमें नरयावली विधायक प्रदीप लारिया और बीना विधानसभा क्षेत्र के विधायक महेश राय शामिल हैं.

दोनों विधायकों ने पुलिस में की शिकायत
नरयावली और बीना विधायकों ने पुलिस से इसकी शिकायत की है. शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला है कि जिन फोन नंबरों से फोन कर इन विधायकों से रकम मांगी गई है, वो फोन नंबर ओडिशा के हैं.  नरयावली विधायक प्रदीप लारिया ने 'भाषा' को बताया कि सोमवार को सुबह करीब 11 बजे उनके मोबाइल पर एक फोन आया. फोन करने वाले व्यक्ति ने खुद का परिचय मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के रूप में दिया. उन्होंने कहा, 'फोन पर बात करने वाले अज्ञात व्यक्ति ने पहले मेरे से 7 लाख रुपये की मांग की और फिर मांगी गई धनराशि एक खाते में हस्तांतरित करने के लिए कहा.'

राज्यपाल के ओएसडी को दी जानकारी



विधायक प्रदीप लारिया ने बताया कि इसके अलावा उस व्यक्ति ने मेरे से बीना विधानसभा क्षेत्र के भाजपा विधायक महेश राय का मोबाइल नंबर भी मांगा. विधायक महेश राय ने भी यही कहानी सुनाई. राय ने कहा कि उन्होंने इस मामले को लेकर बीना पुलिस थाने में शिकायत करने के साथ-साथ इसकी जानकारी तुरंत फोन पर राज्यपाल के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी (ओएसडी) को भी दी.



साइबर शाखा ने शुरू की जांच
सागर जिले के पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि उन्हें विधायक प्रदीप लारिया ने फोन पर सूचना दी है कि एक अज्ञात व्यक्ति ने खुद को वरिष्ठ संवैधानिक पद के व्यक्ति के तौर पर पेश करते हुए उनसे 7 लाख रूपये मांगे और ये धनराशि किसी बैंक खाते में हस्तांतरित करने को कहा है. ऐसी ही शिकायत महेश राय ने भी संबंधित थाने में की है. उन्होंने कहा कि पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने उक्त फोन नंबरों की जांच शुरू कर दी है.

ये भी पढ़ें -
बंद कमरे में शिवराज से मिले वीडी शर्मा, एक घंटे चली मंत्रणा से चढ़ा प्रदेश का सियासी तापमान
MP में 4 साल की बच्ची से दरिंदगी के मामले में विशेष अदालत ने सुनाई मौत की सजा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading