लाइव टीवी

सागर: दलित युवक को न्याय दिलाने के लिए भूपेंद्र सिंह ने दिया धरना, सरकार पर लगाए आरोप
Sagar News in Hindi

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 20, 2020, 9:58 PM IST
सागर: दलित युवक को न्याय दिलाने के लिए भूपेंद्र सिंह ने दिया धरना, सरकार पर लगाए आरोप
सागर के पड़ित युवक के मामले को लेकर बीजेपी का धरना

सागर में दलित युवक को ज़िंदा जलाने के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है. पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह (bhupendra Singh) और लाल सिंह आर्य (Lal singh Arya) ने इस मामले को लेकर सागर में धरना दिया और सरकार पर आरोप लगाए.

  • Share this:
सागर. मध्य प्रदेश के सागर (Sagar) में दलित युवक को केरोसीन डालकर जिंदा जलाने के मामले में अब सियासत गरमा गई है. नेता प्रतिपक्ष के विधानसभा क्षेत्र के व्यक्ति को जिंदा जलाने के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव (Gopal Bhargav) दलित युवक को जिंदा जलाने पर जहां कांग्रेस सरकार को घेर चुके हैं, वहीं मध्यप्रदेश के पूर्व गृहमंत्री और बीजेपी नेता भूपेंद्र सिंह ने दलित व्यक्ति को न्याय दिलाने को लेकर सागर में पूर्व मंत्री लाल सिंह आर्य और कार्यकर्ताओं के साथ धरना दिया. राज्य के पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जबसे प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है तबसे प्रदेश में सबसे ज्यादा दलितों पर अपराध हो रहे है.

'सरकार ने नहीं की मदद'
सागर में पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने करीब दो से तीन घंटे तक पूर्व मंत्री लाल सिंह आर्य, विधायक प्रदीप लारिया, विधायक शैलेंद्र जैन और कार्यकर्ताओं के साथ धरना दिया. पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह ने सागर में धरना देते हुए कहा कि व्यक्ति को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया था. सरकार ने दलित व्यक्ति के इलाज की व्यवस्था तक नहीं की है. एंबुलेंस के लिए भी लोगों को धरना देना पड़ा.

'कांग्रेस के राज में दलितों पर हो रहे अपराध'

पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस सरकार को घेरते हुए कहा कि जबसे मप्र में कांग्रेस की सरकार बनी है तबसे सबसे ज्यादा अपराध दलितों के साथ हो रहे हैं. उन्होंने प्रदेश सरकार से पीड़ित परिवार को 10 लाख की आर्थिक मदद देने की मांग की.

लाल सिंह आर्य ने थाना प्रभारी पर लगाए आरोप
पूर्व मंत्री लालसिंह आर्य ने इस मामले में थाना प्रभारी पर आरोप लगाते हुए कहा कि थाना प्रभारी आरोपियों से मिली हुई हैं. समय पर ध्यान देतीं तो इस दलित परिवार के साथ ये घटना नहीं होती. इस पूरे मामले में थाना प्रभारी लापरवाही उजागर हो रही है. उनको तत्काल पद से हटाना चाहिेए.'क्या है मामला
14 जनवरी को सागर में अनुसूचित जाति वर्ग के एक युवक धनप्रसाद अहिरवार को विवाद के बाद कुछ लोगों ने केरोसिन डालकर जिंदा जला दिया था. पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों के खिलाफ
मामला दर्ज कर किया है. गोपाल भार्गव ने इस मामले में पुलिस पर धर्म विशेष के लोगों को बचाने का आरोप लगाया था.

ये भी पढ़ें -
राजगढ़ थप्पड़ कांड पर बीजेपी हमलावर : कलेक्टर के खिलाफ FIR कराने जाएंगे नेता
CAA के समर्थन में प्रदर्शन कर रहे लोगों को थप्‍पड़ जड़ने वालीं डिप्‍टी कलेक्‍टर का परिवार करता है ये काम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सागर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 9:50 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर