किसान ने की आत्महत्या, बेटा बोला- कर्जमाफी ना होने से उठाया ये कदम

बैंक से बार-बार कर्ज चुकाने के लिए नोटिस और कॉल भी आते थे. बैंक से आने वाले बार-बार के नोटिस और कॉल से परेशान होकर गोविन्द ने मकरोनिया स्थित रेल की पटरी पर ट्रेन से कटकर जान दे दी.

News18 Madhya Pradesh
Updated: July 23, 2019, 1:15 PM IST
News18 Madhya Pradesh
Updated: July 23, 2019, 1:15 PM IST
मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनते ही कमलनाथ ने सबसे पहले किसानों की कर्जमाफी की फाइल पर साइन किए थे. लेकिन प्रदेश में कर्ज से परेशान किसानों की आत्महत्या का सिलसिला अब भी नहीं रुक रहा है. मध्यप्रदेश के सागर जिले की बंडा तहसील के छापरी के किसान ने कर्ज के बोझ तले आत्महत्या कर ली. छापरी के 50 साल के गोविन्द सिंह ने 5 लाख के कर्ज के कारण ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली. गोविन्द सिंह की आठ एकड़ जमीन है उस पर कर्रापुर कस्बे स्थित SBI बैंक  और इलाहाबाद बैंक का 5 लाख का कर्जा था.  बैंक से बार-बार कर्ज चुकाने के लिए नोटिस और कॉल भी आते थे. बैंक से आने वाले बार-बार के नोटिस और कॉल से परेशान होकर गोविन्द ने मकरोनिया स्थित रेल की पटरी पर ट्रेन से कटकर जान दे दी.

किसान आत्महत्या, Farmer suicides
मध्य प्रदेश में किसानों की आत्महत्या का सिलसिला रुक नहीं रहा है. उम्मीद थी कि कमलनाथ सरकार की कर्जमाफी के बाद ये सिलसिला रुकेगा. लेकिन कर्ज के बोझ तले आज भी किसान अपनी जान देने को विवश है.(सांकेतिक तस्वीर)


 त्रृण का 1 भी रुपया नहीं हुआ माफ 

मृतक के बेटे ने आरोप लगाया है की हमारे पिता जी को बार-बार बैंक से बुलावे आ रहे थे जिसके कारण उन्होंने आत्महत्या कर ली. मृतक के बेटे का कहना है कि उन्हें उम्मीद थी कि कर्जमाफी का कुछ फायदा उन्हें भी मिलेगा, लेकिन उनका 1 रुपए का भी त्रृण माफ नही हुआ.  पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है. लेकिन इस किसान की मौत के बाद हंगामा होना तय है क्योंकि विधान सभा में सरकार और विपक्ष किसान के मुद्दे पर आमने सामने है. विपक्ष सरकार से जवाब जरूर मांगेगा कि गोविन्द की आत्महत्या का जिम्मेदार कौन है.

(सागर से राजेश की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें- जान की बाजी लगाकर उफनती नर्मदा नदी को पार कर पढ़ने जाते है बच्चें, देखिए VIDEO

ये भी पढ़ें- सरकारी स्कूल के शिक्षक ने किया कुछ ऐसा अब बच्चे विज्ञान में लेने लगे रुचि
First published: July 23, 2019, 1:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...