लाइव टीवी

कमलनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, ये है मामला 

Sharad Shrivastava | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 18, 2020, 10:13 PM IST
कमलनाथ सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेंगे नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, ये है मामला 
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने मध्य प्रदेश पुलिस पर लगाए आरोप

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने आरोप लगाया कि अनुसूचित जाति वर्ग (SC) के लोगों पर अत्याचार किया जा रहा है और पुलिस धर्म विशेष के आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है.

  • Share this:
भोपाल. शनिवार को राजधानी भोपाल में नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी के वरिष्ठ नेता गोपाल भार्गव (Gopal Bhargav) ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में सागर (Sagar) की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि सागर में एक युवक को केरोसिन डालकर जला दिया गया लेकिन पुलिस एक धर्म विशेष के आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है. गोपाल भार्गव ने पुलिस कार्रवाई के विरोध में सागर में धरना प्रदर्शन करने का ऐलान किया है. गोपाल भार्गव की मानें तो अनुसूचित जाति वर्ग को न्याय दिलाने के लिए वो सागर में धरना देंगे. गोपाल भार्गव ने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार में अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों पर अत्याचार हो रहे हैं लेकिन ये सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही.

गोपाल भार्गव ने अस्पताल जाकर जाना हाल
सागर में जिंदा जलाए गए पीड़ित युवक धनप्रसाद अहिरवार को गंभीर हालत में भोपाल के हमीदिया हॉस्पिटल रेफर किया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने शनिवार को अस्पताल जाकर वहां पीड़ित युवक का हाल जाना. नेता प्रतिपक्ष ने पीड़ित के परिजनों से भी मुलाकात की.

क्या है मामला ?

दरअसल बीती 14 जनवरी को सागर में अनुसूचित जाति वर्ग के एक युवक धनप्रसाद अहिरवार को विवाद के बाद कुछ लोगों ने केरोसिन डालकर जिंदा जला दिया था. पुलिस ने इस मामले में 3 आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. गोपाल भार्गव का आरोप है कि आरोपियों की संख्या 7 है और वो एक धर्म विशेष से जुड़े हुए हैं, लेकिन पुलिस इन्हें बचाने की कोशिश कर रही है. विवाद की शुरुआत बच्चों के बीच खेल-खेल में हुई थी. दोनों पक्षों के बीच इससे पहले भी विवाद हो चुका है.

ये भी पढ़ें -
BJP सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध लिफाफा भेजने के मामले में महाराष्ट्र का डॉक्टर गिरफ्तार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 9:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर