Home /News /madhya-pradesh /

MP News: मंत्री पुत्र की गाड़ी पकड़ी, चेकिंग के बाद बेटे ने न्यायाधीश को हाथ जोड़े, पूछा नाम

MP News: मंत्री पुत्र की गाड़ी पकड़ी, चेकिंग के बाद बेटे ने न्यायाधीश को हाथ जोड़े, पूछा नाम

सागर में न्यायाधीश ने परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे आकाश राजपूत की गाड़ियों की चेकिंग की.

सागर में न्यायाधीश ने परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे आकाश राजपूत की गाड़ियों की चेकिंग की.

Sagar News: सागर में मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे आकाश राजपूत की गाड़ी रोक ली गई. न्यायाधीश ने गाड़ी के कागज देखे और बाद में गाड़ी को जाने दिया. इसके बाद आकाश ने हाथ जोड़कर उन्हें धन्यवाद बोला और नाम पूछा जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

अधिक पढ़ें ...

सागर. सागर में शनिवार को मजिस्ट्रेट चेकिंग के दौरान न्यायाधीश ने परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे आकाश राजपूत की कार रोक ली. उन्होंने गाड़ी के कागज देखे और बाद में गाड़ी छोड़ दी. गाड़ी छूटने के बाद मंत्री के बेटे आकाश ने हाथ जोड़कर उन्हें धन्यवाद बोला और नाम पूछने लगे. इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद वायरल हो गया.

गौरतलब है कि शनिवार को पूरे सागर जिले में मजिस्ट्रेट चेकिंग की जा रही थी. इस दौरान शाम करीब 5 बजे जिला पंचायत तिराहे पर राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के बेटे आकाश राजपूत की कार गुजरी. उनकी कार के पीछे एक और एसयूवी थी. न्यायाधीश ने दोनों गाड़ियों को रुकवाया और गाड़ी के कागज दिखाने को कहा. इस बीच वहां जाम की स्थिति बन गई.

गाड़ी से पुलिस ने उतारा हूटर

न्यायाधीश ने स्टाफ से कहा कि गाड़ी की चाबी निकाल लें. कुछ देर तक गाड़ी के कागज देखने के बाद छोड़ दिया गया. गाड़ी छूटने के बाद आकाश राजपूत ने उनके हाथ जोड़, धन्यवाद कहा और नाम पूछा. इसके बाद वो दूसरी ओर निकल गए. बताया जा रहा है कि उनकी गाड़ी का कोर्ट चालान बनाया गया है. इस दौरान आकाश की गाड़ी के पीछे चल रही सफेद रंग की एसयूवी पर कार्रवाई की गई. उस हूटर लगे थे. गाड़ी से हूटर निकाल दिया गया.

Tags: Madhya pradesh news, Madhya pradesh news live, Sagar news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर