लाइव टीवी

गरीबी से तंग आकर पूरे परिवार ने लगाई फांसी, 3 की मौत से मचा हड़कंप

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 7, 2019, 4:39 PM IST
गरीबी से तंग आकर पूरे परिवार ने लगाई फांसी, 3 की मौत से मचा हड़कंप
गरीबी से परेशान हो कर परिवार ने लगाई फांसी.

सागर जिले (Sagar District) के बम्होरी रेगुवां गांव एक ही परिवार के चार लोगों ने फांसी लगाकर खुदकुशी (Suicide) का प्रयास किया, जिसमें से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि परिवार का मुखिया मनोज पटेल (Manoj Patel) अस्‍पताल में भर्ती है.

  • Share this:
सागर. मध्‍य प्रदेश के सागर जिले (Sagar District) के बम्होरी रेगुवां गांव से दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है. यहां एक ही परिवार के चार लोगों ने फांसी लगाकर खुदकुशी (Suicide) करने की कोशिश की, जिसमें तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि एक व्‍यक्ति का अस्‍पताल (Hospital) में इलाज चल रहा है. हैरानी की बात है कि मरने वालों में छह और दस साल की दो बच्चियां भी शामिल हैं.

बहरहाल, मनोज पटेल (Manoj Patel) ने अपनी पत्नी पूनम पटेल और दो मासूम बच्चों जिया और सोनम के साथ आत्‍महत्‍या का प्रयास किया, जिसमें पत्‍नी और दोनों बच्‍चों की मौत हो चुकी है. जबकि मनोज अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है.

आर्थिक तंगी के चलते उठाया कदम
बम्होरी रेंगुवां गांव में सुबह के उस वक्त सनसनी फैल गई जब लोगों को पता चला कि एक ही परिवार के चार लोगों ने खुदकुशी कर ली है, जिसमें छह साल की जिया और दस साल की सोनम भी शामिल हैं. हालांकि परिजनों और आसपास के लोगों ने चारों को तुरंत ही सागर में अस्पताल में भर्ती भी कराया, लेकिन उससे पहले ही पत्नी और दो बच्चों की मौत हो चुकी थी. जबकि मनोज पटेल की सांसें चल रही थीं और उसका अभी इलाज चल रहा है.

घटना स्थल से मिला सुसाइट नोट
सागर एसपी अमित सांघी का कहना है कि सूचना मिलते ही सागर सीएसपी मौके पर पहुंचे थे,जहां पर घर की छानबीन भी और घर से रस्सियां भी बरामद की गई हैं. मौके से सुसाइट नोट भी बरामद हुआ है जिसमें मनोज ने लिखा है कि परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी और उसका पूरा परिवार गरीबी से जूझ रहा था. गरीबी और तंगहाली से परेशान होकर ही मनोज ने परिवार के साथ आत्महत्या का कदम उठाया. वैसे अभी शवों का पोस्टमार्टम किया जा रहा है और घटना की पूरी जांच की जा रही है. लिहाजा जांच के बाद ही स्थिति साफ हो पाएगी कि घटना के पीछे और कोई वजह तो नहीं थी.

ये भी पढ़ें-
Loading...

कैंसर ट्रीटमेंट को लेकर भोपाल के 3 बड़े सरकारी अस्‍पतालों की खुली पोल! मरीजों को मिलता है सिर्फ आश्‍वासन

बंदरिया अपने घायल बच्‍चे को लेकर पहुंची अस्‍पताल, स्‍टाफ की आंखें हो गईं नम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सागर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 7, 2019, 4:36 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...