MP उपचुनाव से पहले BJP में शामिल राहुल सिंह लोधी पर बरसे कांग्रेस के बंडा विधायक, कही ये बात

दमोह सीट से विधायक राहुल सिंह लोधी कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं (फोटो: ANI)
दमोह सीट से विधायक राहुल सिंह लोधी कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं (फोटो: ANI)

राहुल सिंह लोधी के बीजेपी में शामिल होने पर बंडा से कांग्रेस विधायक दरबार सिंह लोधी ने कहा कि पहले उनके भाई प्रद्युम्न सिंह लोधी कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में चले गए थे और अब इन्होंने भी ऐसा काम किया है. राहुल लोधी ने पार्टी के साथ, अपने साथ और अपनी जाति के साथ गलत किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 4:47 PM IST
  • Share this:
सागर. मध्य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (MP Assembly By-election 2020) के पहले कांग्रेस को एक और झटका लगा है. दमोह से कांग्रेस के विधायक राहुल सिंह लोधी (Rahul Singh Lodhi) ने पार्टी छोड़ दी है और बीजेपी का दामन थाम लिया है. राहुल लोधी ने शनिवार को विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को अपना इस्तीफा सौंपा. इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) की मौजूदगी में उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की.

राहुल सिंह लोधी के बीजेपी में शामिल होने पर बंडा से कांग्रेस विधायक दरबार सिंह लोधी ने कहा कि पहले उनके भाई प्रद्युम्न सिंह लोधी कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में चले गए थे और अब इन्होंने भी ऐसा काम किया है. उन्होंने कहा कि यह (राहुल लोधी) मेरे साथ रहे हैं लेकिन मुझे पता नहीं था कि यह पार्टी छोड़ देंगे और बीजेपी में चले जाएंगे. उन्होंने ऐसा कर के पार्टी के साथ, अपने साथ और अपनी जाति के साथ गलत किया है. दोनों भाइयों ने मिलकर जो कृत्य किया है उसके लिए दमोह विधानसभा क्षेत्र उन्हें कभी माफ नहीं करेगा.


लोधी के मुताबिक उपचुनाव से पहले बीजेपी में घबराहट है. उन्हें लगता है कि हम कहीं से नहीं जीत रहे हैं, इसलिए बीजेपी ने ऐसा कृत्य किया है.



मार्च में कांग्रेस के 22 MLA इस्तीफा देकर BJP में हुए थे शामिल
बता दें कि इसी साल मार्च में कांग्रेस के 22 विधायक पाला बदलकर बीजेपी में शामिल हो गए थे. इससे कांग्रेस की तत्कालीन कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ गई थी जिसके बाद राज्यपाल ने सदन में बहुमत परीक्षण करवाने के निर्देश दिया था. मगर इससे पहले ही कमलनाथ ने सीएम हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था.

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के लिए तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं. जबकि वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी. हालांकि अभी यह साफ नहीं है कि राहुल सिंह लोधी के इस्तीफे से खाली हुई दमोह विधानसभा सीट पर उपचुनाव इन 28 सीटों के साथ ही करवाए जाएंगे या बाद में करवाए जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज