लाइव टीवी

गर्भवती महिलाओं और बच्चों की जगह पशुओं का दूर हो रहा है कुपोषण, जानिए कैसे?

Ranjana Dubey | News18 Madhya Pradesh
Updated: November 13, 2019, 10:09 PM IST
गर्भवती महिलाओं और बच्चों की जगह पशुओं का दूर हो रहा है कुपोषण, जानिए कैसे?
घर से 400 से ज्यादा पैकेट पोषण आहार के जब्त.

आंगनवाड़ी केंद्रों (Anganwadi Centers) में दिए जाने वाले पोषण आहार में अंडा देने के बयान के बाद प्रदेश में बवाल हो गया था. फिलहाल गर्भवती महिलाओं और बच्चों का कुपोषण दूर करने के लिए दिए जा रहे पोषण आहार को पशुओं को खिलाए जाने का मामला सामने आया है.

  • Share this:
भोपाल. मध्‍य प्रदेश में महिला बाल विकास मंत्रालय (Ministry of Women and Child Development) कुपोषण दूर करने के लिए आंगनवाड़ियों में अंडे (Egg) देने की योजना तैयार कर रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ सूबे के सागर जिले में पोषण आहार पशुओं को खिलाया जा रहा है. जी हां, गर्भवती महिलाओं और बच्चों को दिया जाने वाला पोषण आहार आंगनवाड़ी केंद्रों (Anganwadi Centers) तक ना पहुंचकर पशुओं का आहार बन रहा है. हैरानी की बात ये है कि गड़बड़ी सामने आने के बाद भी अधिकारी मामले में कार्रवाई से बच रहे हैं.

घर से 400 से ज्यादा पैकेट पोषण आहार के जब्त
मध्य प्रदेश के सागर जिले के रहली में पोषण आहार के 400 पैकेट एक घर से जब्त किए गए हैं. पोषण आहार आंगनबाड़ी केंद्रों तक ना पहुंचकर लोग पशुओं को खिला रहे हैं. इस मामले को लेकर राजकुमार सोनी नामक एक व्‍यक्ति ने शिकायत भी दर्ज कराई है. सोनी का कहना है कि पड़ोस में ही रहने वाले घर में पोषण आहार लगातार मवेशियों के लिए आ रहा है. बच्चों को खिलाए जाने वाले पोषण आहार की चार बोरियां घर पर पहुंची थीं, जिसकी शिकायत रहली तहसीदार को की है. तहसीलदार ने लिखित में शिकायत मांगी और ऐसो होने पर तहसीलदार ने पुलिस के साथ घर में छापा मारा,जिसमें चार बोरियां में 400 पैकेट पोषण आहार के जब्त किए, तो 46 पैकेट घर से खाली जब्त किए. हालांकि अभी तक इस मामले कोई खास कार्रवाई नहीं हुई है.

बीना में भी जब्त हो चुका है घर से पोषण आहार

मप्र के सागर जिले में पोषण आहार को लेकर लगातार गड़ब़ड़ियां सामने आ रही हैं. जबकि बीना में भी पोषण आहार घर से ही जब्त किया गया था, जोकि मवेशियों को खिलाया जा रहा था. हालांकि जांच के बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया है. वहीं नये मामले के शिकायतकर्ता राजकुमार का कहना है कि मामले में कोई जांच पड़ताल नहीं की जा रही हैं. बस शिकायत के बाद अधिकारी ने छापा मारकर पैकेट जब्त कर लिए और वीडियोग्राफी कर मामला खत्‍म कर दिया.

अधिकारी बोले जांच के बाद होगी कार्रवाई
मामले को लेकर रहली एसडीएम शशि मिश्रा का कहना है कि तहसीलदार का हाल ही में स्थानांतरण हुआ है. मैंने मामले की सारी जानकारी ले ली है. मामले की जांच की जा रही है और कुछ बिंदुओं पर जांच बाकी है. जांच पूरी होते ही मामले में एफआईआर भी कराई जाएगी और एक हफ्ते के भीतर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.ये भी पढ़ें-
सावधान! आप भी तो नहीं बन रहे Fake Matrimonial Websites का शिकार, ऐसे चलता है ठगी का धंधा

डेढ़ साल पहले अस्‍पताल में कुश को लावारिस छोड़ गई थी मां, अब यूरोप के दम्‍पति ने लिया गोद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सागर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 10:09 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर