पिकनिक मनाए आए पांच लोग सागर के राहतगढ़ वाटरफॉल में डूबे, एक बच्ची बचाई गई

पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एक बच्ची को बचाया है जिसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है
पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एक बच्ची को बचाया है जिसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया है

पुलिस और एनडीआरएफ (NDRF) की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue Operation) चलाकर तीन लोगों के शवों को पानी से बाहर निकाला. दो लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं जिनकी तलाश की जा रही है. एनडीआरएफ ने एक बच्ची को रेस्क्यू किया है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2020, 7:35 PM IST
  • Share this:
सागर. मध्य प्रदेश के सागर (Sagar) में पिकनिक (Picnic) मनाने गए छह लोग राहतगढ़ वाटरफॉल (Rahatgarh Waterfall) में डूब गए. एक साथ इतनी संख्या में लोगों के पानी में डूबने से हड़कंप मच गया. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस और एनडीआरएफ (NDRF) की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन (Rescue Operation) चलाकर तीन लोगों के शवों को पानी से बाहर निकाला. दो लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं जिनकी तलाश की जा रही है. एनडीआरएफ ने एक बच्ची को रेस्क्यू किया है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

बताया जा रहा है कि सागर के रहने वाले नजिर अपने परिवार के साथ राहतगढ़ वाटरफॉल में पिकनिक मनाने के लिए आए थे. यह सभी राहतगढ़ वाटरफॉल के प्रतिबंधित एरिया में पहुंच कर पिकनिक मनाने लगे. इस दौरान बहते झरने को देखकर वो खुद को उसमें डुबकी लगाने से नहीं रोक सके और एक-एक कर परिवार के छह लोग राहतगढ़ वाटरफॉल में नहाने उतर गए. मगर अनजाने में वो लोग वाटरफॉल के गहरे कुंड में चले गए जहां पानी में डूब गए.


राहतगढ़ में बीना नदी पर बना यह वाटरफॉल वन विभाग की देखरेख में है. राहतगढ़ वाटरफॉल फॉरेस्ट एरिया में बना हुआ है. यहां सुरक्षा के इंतजाम नहीं होने से आए दिन यहां इस तरह के हादसे होते रहते है. यहां घूमने आने वाले पर्यटक भी अपनी सुरक्षा का ध्यान नहीं रखते और लापरवाही से वाटरफॉल के नीचे उतर जाते हैं और हादसे का शिकार हो जाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज