• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • नौंवी कक्षा के 53 प्रतिशत बच्चे फेल, शिक्षा की हालत चिंताजनक

नौंवी कक्षा के 53 प्रतिशत बच्चे फेल, शिक्षा की हालत चिंताजनक

सतना का एक स्कूल

सतना का एक स्कूल

सतना जिले के नौंवी कक्षा के 53 प्रतिशत बच्चे फेल हो गए हैं. मात्र 43 प्रतिशत छात्र- छात्रा पास हो सके. इससे बदहाल शिक्षा व्यवस्था की पोल एक बार फिर खुली है.

  • Share this:
सतना जिले के नौंवी कक्षा के 53 प्रतिशत बच्चे फेल हो गए हैं. मात्र 43 प्रतिशत छात्र- छात्रा पास हो सके. इससे बदहाल शिक्षा व्यवस्था की पोल एक बार फिर खुली है.शासकीय स्कूलों में यह हाल काफी चिंताजनक है.

लाखों-करोड़ो खर्च करने के बाद भी शिक्षा व्यवस्था बेपटरी है.अब इस मामले में शिक्षा विभाग पर सवाल उठ रहे हैं.ऐसे में विभाग इस सत्र में स्पेशल क्लास लगाने की बात कह रहा है.शिक्षा विभाग की मानें तो नौंवी की परीक्षा में इतनी बड़ी संख्या में बच्चों के फेल होने की वजह तलाशी जा रही है.

शिक्षा में गुणात्मक सुधार के लिए नित नए प्रयोग हो रहे हैं. जो विशेष अभियान चल रहा, उसका नतीजा भी सिफर है. इस शिक्षा सत्र में सतना जिले की शिक्षा व्यवस्था की कलई खोल कर रख दी है. जिले में इस वर्ष होम एग्जाम में कक्षा नौंवी का परिणाम देख जिले की बेपटरी शिक्षा व्यवस्था की कहानी खुद ब खुद बया कर रहा है.

जिले में कक्षा नौंवी में 38,217 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा दी मगर उनमें 20,860 फेल हो गए. सिर्फ 16,449 छात्र-छात्रा 10 वीं कक्षा में पहुंच पाए हैं. इतना ही नहीं,661 छात्र छात्रा परीक्षा में बैठने की हिम्मत नहीं जुटा पाए.11वीं कक्षा की बात करें तो 16,044 में से 13,682 पास हो सके.वहीं दसवीं बोर्ड की परीक्षा में भी शासकीय स्कूलों का परिणाम 46 प्रतिशत रहा.

 

 

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन