• Home
  • »
  • News
  • »
  • madhya-pradesh
  • »
  • MP-UP पुलिस के लिए चुनौती बना बबली कोल 'डकैत', वारदात के बाद करता है ये काम

MP-UP पुलिस के लिए चुनौती बना बबली कोल 'डकैत', वारदात के बाद करता है ये काम

बबली कोल डकैत अब तक 16 से अधिक हत्‍याएं कर चुका है.

बबली कोल डकैत अब तक 16 से अधिक हत्‍याएं कर चुका है.

बबली कोल (Babli Col) गिरोह मध्‍य प्रदेश पुलिस (Madhya Pradesh Police) और उत्‍तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के लिए चुनौती बना हुआ है. जबकि वह वारदात के बाद अपना वीडियो बनाकर वायरल कर देता है.

  • Share this:
सतना. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) और उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के लिए इन दिनों बबली कोल (Babli Col) नाम का इनामी डकैत चुनौती बना हुआ है. हैरानी की बात ये है कि वह खुली चुनौती देते हुए वारदात पर वारदात कर रहा है और पुलिस सिर्फ हवा में लट्ठ भांज रही. करीब 15 दिन पहले उत्तर प्रदेश के चित्रकूट के मानिकपुर से मावा व्‍यापारी का अपहरण कर फिरौती बसूलने वाले बबली कोल ने अब मध्य प्रदेश के सतना जिले से एक किसान को अगवा कर लिया है. जबकि उसने किसान को सकुशल छोड़ने की एवज में पचास लाख की फिरौती की मांगी है. हालांकि घटना के 24 घंटे बीतने के बाद भी दोनों राज्यों की पुलिस को सात लाख के इनामी डकैत बबली कोल गिरोह का अभी तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है.

सतना में दिया गिरोह ने वारदात को अंजाम
मध्य प्रदेश के सतना जिले के धारकुंडी थाना इलाके के हरसेड गांव से शनिवार की रात सात लाख का इनामी डकैत बबली कोल ने अबधेश समदड़िया नाम के पचपन बर्षीय किसान का अपहरण कर लिया. डकैत ने किसान के घर काम करने बाले मजदूर लल्लू कोल को पहले घर से अगवा किया और बंदूक की बट से जमकर मारपीट की. इसके बाद मजदूर को ढाल बनाकर पांच डकैतों ने घर की चार दीवारी लांघी और मजदूर को किसान को घर के अंदर से गेट खुलवाले पर मजबूर किया. जैसे ही किसान ने घर का दरवाजा खोला उन्हें अगवा कर लिया. डकैत किसान का मोबाइल फोन भी ले गए. जबकि घटना के दो घंटे सुबह पांच बजे डैकत बबली कोल ने किसान के बेटे को फोन किया और पचास लाख की फिरौती की मांग की है. अपहरण की इस घटना से गांव में दहशत का माहौल है. हालां‍कि मध्य प्रदेश पुलिस का दावा है कि जल्द किसान को रिहा करा लिया जाएगा. जबकि पीड़ित परिवार की मानें तो अब वो पलायन करना ही उचित समझ रहा है.

वैसे पिछले सात सालों में राम की तपोभूमि चित्रकूट की वादियोंं में डकैत बबली खौफ का पर्याय बन चुका है. वह उत्तर प्रदेश पुलिस के चार जवानों की मुठभेड़ में गोली मारकर हत्या कर चुका है, तो दोनों राज्‍यों के 12 से ज्‍यादा ग्रामीणों की हत्या करने के अलावा कई बार फिरौती वसूल चुका है.


पुलिस ने उठाया ये कदम
इस घटना के बाद आईजी चंचल शेखर, डीआईजी अविनाश शर्मा और एसपी रियाज इकबाल सहित पुलिस के आला धिकारी थारकुंडी थाना में कैम्प कर रहे हैं. पुलिस की छह टीमें जंगल में उतरी गई हैं. आईजी की मानें तो सतना पुलिस उत्तर प्रदेश पुलिस के संपर्क में है और दोनों राज्‍यों की पुलिस जंगलों में उतरी है, लिहाजा जल्द ही किसान को रिहा करा लिया जाएगा. हालांकि जंगल की भौगोलिक बनावट की पुलिस के लिए चुनौती बनी हुई है. आपको बता दें कि बबली कोल पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रेदश सरकार ने कुल सात लाख का इनाम घोषित कर रखा है.

खूंखार है बबली डकैत
डकैत बबली इतना खूंखार और शार्प शूटर है कि पुलिस उसके सामने आने से कतराती है. उत्तर प्रदेश पुलिस से डकैत का कई बार आमना सामना हुआ, लेकिन वह हर बार भारी पड़ा है. वह ना सिर्फ सुरक्षित बच निकला है बल्कि मुठभेड़ में अब तक एक थाना प्रभारी सहित चार जवानों की गोली मारकर हत्या भी कर चुका है. जबकि वह रसिक मिजाज और नशे का आदी भी है. वह खुद का वीडियो बनाकर वायरल भी करता है. सूत्रों की मानें तो डकैत सतना के चित्रकूट और उत्तर प्रदेश के कर्बी सहित चार जिलों में सजातीय लोगो के यहां पनाह लेता है.

ये भी पढ़ें:- MP कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल प्लान, प्रवक्ता ऐसे करेंगे कमलनाथ सरकार की ब्रांडिंग

कमलनाथ सरकार की नई रेत नीति पर सियासत, BJP ने कहा-नई नीति नदियों की सेहत से खिलवाड़

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज