राम की नगरी में बीजेपी की उड़ी नींद,'आधी सरकार' ने चित्रकूट में डाला डेरा
Satna News in Hindi

राम की नगरी में बीजेपी की उड़ी नींद,'आधी सरकार' ने चित्रकूट में डाला डेरा
प्रतीकात्मक फोटो

मध्य प्रदेश में चित्रकूट विधानसभा सीट के हो रहे उपचुनाव के लिए काउंटडाऊन शुरू हो गया है. कांग्रेस के कब्जे वाली सीट को हथियाने के लिए आतुर सत्ताधारी भाजपा की उपचुनाव प्रचार को लेकर नींद उड़ गयी है. वजह है कांगेस की मैदानी जमावट और साइलेंट प्रचार की शैली.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में चित्रकूट विधानसभा सीट के हो रहे उपचुनाव के लिए काउंटडाऊन शुरू हो गया है.  कांग्रेस के कब्जे वाली सीट को हथियाने के लिए आतुर सत्ताधारी भाजपा की उपचुनाव प्रचार को लेकर नींद उड़ गयी है. वजह है कांगेस की मैदानी जमावट और साइलेंट प्रचार की शैली.

आलम ये है कि प्रदेश की आधी सरकार ने चित्रकूट में डेरा डाल दिया है. संगठन के दिग्गज नेता पहले से ही डटे हुए हैं.

‌सतना जिले के चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव के लिए प्रचार जैसे-जैसे जोर पकड़ रहा है. वैसे-वैसे सियासी दल दांव-पेंच चलने में भी पीछे नहीं है. मंगल सिंह के दल-बदल की रणनीति में मुंह की खाने और कांग्रेस में दूसरे दलों के कुछ कार्यकर्ताओं के शामिल होने से भाजपा संगठन के होश उड़ गए हैं. अब आलम ये है कि हर हाल में राम की नगरी को जीतने के लिए प्रदेश सरकार के एक दर्जन मंत्रियों ने दस्तक दे दी है.



सीएम शिवराज के सिपहसालारों को चित्रकूट में उन क्षेत्रों की जिम्मेदारी दी गई है, जहां भाजपा कमजोर और कांग्रेस समर्थकों का वर्चस्व है.
उद्योग मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ओम प्रकाश धुर्वे, सूक्ष्म मध्यम एवं लघु उद्यम मंत्री संजय पाठक, महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री ललित यादव, सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग, पी़डब्ल्यूडी मंत्री रामपाल सिंह, ऊर्जा मंत्री पारस जैन, जीएडी मंत्री लालसिंह आर्य चित्रकूट में डटे हुए हैं.

केन्द्रीय ग्रामीण एवं विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर कई जगहों पर सभाएं लेकर लौट आए हैं. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी उपचुनाव प्रचार के लिए एक दौर पूरा कर चुके हैं. अगले पांच दिनों में सीएम के अलावा कई और मंत्रियों का उपचुनाव के लिए चित्रकूट जाने का कार्यक्रम तय हैं.

इसके अलावा प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, महामंत्री विष्णुदत्त शर्मा,अभिलाष पांडे, रणवीर सिंह रावत, भाजपा युवा मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष सहित राम की नगरी के उपचुनाव में भाजपा संगठन और सरकार की घेराबंदी से कांग्रेस की बौखलाना जाहिर हैं.

कांग्रेस प्रवक्ता विभा पटेल का कहना है कि भाजपा जितना भी सरकारी ताकत का इस्तेमाल कर ले, इस बार भी जीत कांग्रेस की ही होगी.

उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे चित्रकूट विधानसभा सीट पर भाजपा अब तक सिर्फ एक बार ही चुनाव जीत सकी है. चित्रकूट में पिछले 27 साल में हुए 6 विधानसभा चुनावों के आंकड़ों पर गौर करें तो. यहां सर्वाधिक 3 बार कांग्रेस ने विजय हासिल की. एक-एक बार भाजपा, जनता दल और बसपा प्रत्याशी ने जीत का स्वाद चखा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading